बुधवार , जुलाई 18 2018

विश्व एथलेटिक्स : आख़िरी रेस में घायल हुए बोल्‍ट, टूट गया गोल्‍ड का सपना

बोल्ट की आखिरी रेसलंदन। विश्व एथलेटिक्स चैम्पियनशिप को करियर की अंतिम प्रतियोगिता बताने वाले जमैका के दिग्गज धावक उसेन बोल्ट के लिए करियर का समापन निराशाजनक रहा। पुरुषों की 100 मीटर रेस स्पर्धा के दिग्गज बोल्ट को इस चैम्पियनशिप में इस स्पर्धा में कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा।

बोल्ट की आखिरी रेस

पंड्या के छक्कों की बरसात में बहे कई धुरंधर खिलाडियों के रिकॉर्ड

इसके अलावा, शनिवार रात हुई चार गुणा 100 मीटर रेस में अन्य तीन एथलीटों के साथ जमैका का प्रतिनिधित्व कर रहे बोल्ट रेस के दौरान चोटिल हो गए और इस कारण उनकी टीम स्पर्धा से बाहर हो गई। बोल्ट की चोट के कारण बाहर हुई जमैका की टीम इस स्पर्धा में अपना खिताब बचाने से भी चूक गई। बोल्ट ने इससे पहले, 200 मीटर स्पर्धा में हिस्सा नहीं लिया था।

बता दें कि बोल्ट ने 100 मीटर की रेस आधी ही पूरी कर पाए थे कि उनकी मांसपेशियों में ख़िंचाव आ गया और ट्रेक पर ही गिर गए। मैदान पर करीब 60,000 लोग उनकी आखिरी जीत देखने आए थे।

बोल्ट के पास 14 विश्व मेडल और 8 ओलिंपिक गोल्ड मेडल हैं। 100 मीटर और 200 मीटर का विश्व रिकॉर्ड भी फिलहाल उन्हीं के नाम है।

यह पहली चैम्पियनशिप है, जिसमें बोल्ट 100 मीटर, 200 मीटर या चार गुणा 100 मीटर में से किसी भी स्पर्धा में स्वर्ण पदक हासिल करने में असफल रहे। 2007 में उन्होंने 200 मीटर और चार गुणा 100 मीटर स्पर्धा में रजत पदक जीता था। इस चैम्पियनशिप के 2013 और 2015 संस्करण में उन्होंने तीनों स्पर्धाओं में स्वर्ण पदक जीते थे।

=>
LIVE TV