बॉर्डर पर बनेंगे विशेष क्वार्टर, नवविवाहित जवान पत्नी सहित रह सकेंगे

l_Border--1461477658एजेंसी/ जैसलमेर

सीमा सुरक्षा बल बॉर्डर पर विशेष आवास तैयार करवाएगा। जहां बीएसएफ के नवविवाहित कार्मिक पत्नी सहित रह सकेंगे। वर्तमान में बॉर्डर के नजदीक शहरों में वाहिनी मुख्यालयों पर ही ऐसी आवास व्यवस्था है। बीएसएफ का मानना है कि इससे नवविवाहित जवान तनावमुक्त होकर बेहतर तरीके से ड्यूटी दे सकेंगे।

पश्चिमी सरहद के राजस्थान सीमान्त के दो दिवसीय दौरे पर आए सीमा सुरक्षा बल के महानिदेशक केके शर्मा ने शनिवार को जैसलमेर जिले में अग्रिम सीमा चौकियों का दौरा करने के बाद जवानों को संबोधित करते हुए नवविवाहित कार्मिकों के लिए बॉर्डर पर परिवार रखने की सुविधा उपलब्ध करवाने पर जोर दिया। डीजी शर्मा ने सीमा प्रहरियों के सम्मेलन में सीमा पर तैनात जवानों के विषम परिस्थितियों में तत्परता, लगन और कर्तव्यनिष्ठता की सराहना की। उन्होंने जवानों से बातचीत की व उनकी परेशानियों और ड्यूटी के बारे में पूछा।

हर वर्ष हार्ट अटैक से 70 जवानों की मौत

महानिदेशक ने कहा कि बल में प्रति वर्ष करीब 400 मौतें होती हैं, जिसमें से करीब 70 मौतें दिल का दौरा पडऩे से होती है। इसी तरह 50 मौतें वाहन दुर्घटना से होती हैं। इसलिए जरूरी है कि जवान शारीरिक रुप से तंदुरुस्त रहें। उन्होंने जवानों को रोजाना व्यायाम करने, पौष्टिक आहार लेने तथा अवकाश के दौरान सुरक्षित तरीके से वाहन चलाने की बात कही। इस मौके पर राजस्थान सीमान्त के महानिरीक्षक डॉ. बीआर मेघवाल, उप महानिरीक्षक रवि गांधी सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

गर्मी में मिलेगी राहत

डीजी शर्मा ने सीमा चौकी रोहिताश में कम्पोजिट सीमा चौकी का विधिवत उद्घाटन किया। नवनिर्मित कम्पोजिट बीओपी आधुनिक सुविधाओं से युक्त है, जिसमें मेडिकल व विश्राम और वाहन की सुविधाएं मुहैया कराई गई है। यहां भीषण गर्मी में जवानों को राहत मिल सकेगी और कार्य दक्षता में सुधार होगा।

=>
LIVE TV