Tuesday , June 27 2017

बीएसएफ जवान की सौतेले भाई ने गोली मारकर की हत्‍या

बीएसएफ जवानबाराबंकी। बीएसएफ के सब इंस्पेक्टर को उसके ही सौतेले भाई ने गोली मार कर हत्‍या कर दी। शहर के मुख्‍य बाजार घंटाघर के पास दिन दहाड़े हुई इस वारदात से बाजार में अफरा तफरी मच गई।

घायल बीएसएफ जवान को गंभीर हालत में जिला अस्पताल से लखनऊ ट्राम सेंटर रेफर कर दिया गया। वहां उसे डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। बीएसएफ के सब इंस्पेक्टर की शुक्रवार को ही शादी थी। उसकी तैनाती जम्मू में थी। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

शुक्रवार को होनी थी शादी

शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला लखपेड़ाबाग निवासी अविनाश रस्तोगी (26) बीएसएफ में सब इंस्पेक्टर पद पर तैनात था। उसके पिता स्वर्गीय मुन्ना रस्तोगी ने दो शादियां की थी। जिनमें से वह दूसरी पत्नी मंजू का पुत्र था। पहली पत्नी शशी से चार पुत्र थे जो शहर के ही घंटाघर के पास रहते थे। हालांकि दोनों परिवारों का मिलना जुलना कम ही था। शुक्रवार को अविनाश की शादी अपने सौतेले भाई विकास रस्तोगी की साली जया से होनी थी। सुबह करीब नौ बजे अविनाश रस्तोगी अपने दो साथियों के साथ शहर में घंटाघर के पास खस्ता व मक्खन खाने गए था।

खबर के मुताबिक अविनाश मक्खन की दुकान के पास बाइक पर ही खड़ा था और उसके दोनों दोस्त पास ही मौजूद थे तभी उसका सौतेला भाई विकास रस्तोगी आ धमका। इससे पहले कि कोई कुछ समझ पाता विकास ने अपनी लाइसेंसी पिस्तौल से अविनाश पर फायर झोंक दिया। सीने और जांघ में गोली लगते ही अविनाश सड़क पर गिर पड़ा। दिन दहाड़े बाजार में गोली लगने से अफरातफरी मच गई। इसका लाभ उठा कर विकास मौके से भाग निकला।

घटना के बाद उसके दोनों साथियों ने जमीन पर गिरकर तड़फ रहे अविनाश को पहले बाइक से फिर रिक्शे पर बैठाकर जिला अस्पताल पहुंचाया मगर यहां उसकी हालत बहुत चिंताजनक देख डाक्टरों ने उसे ट्रामा रेफर कर दिया जहां उसे डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। शहर कोतवाल बीपी यादव ने बताया कि सौतेले भाई विकास रस्तोगी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है।

LIVE TV