बिना घोषणा किए अफगानिस्तान पहुंचे डोनाल्ड ट्रंप , तालिबान के साथ शुरू हुई बातचीत…   

अमेरिका के राष्ट्रपति  डोनाल्ड ट्रंप ने बिना घोषणा किए अफगानिस्तान पहुंच गए हैं। जहां उन्होंने तालिबान से बातचीत फिर से शुरू कर दी हैं। देखा जाए तो ट्रंप ने तालिबान से एक बार फिर शांति बनाये रखने की अपील की है।
खबरों की माने तो तालिबान से दोबारा बातचीत शुरू करने के सवाल पर ट्रंप का कहना हैं की – अमेरिका ने पिछले छह महीने में काफी प्रगति की है और उसके साथ ही अपने सैनिक भी वापस बुला रहा है।
जहां उनका तय भी मानना हैं की तालिबान समझौता करना चाहता है और हम उनसे मिलने वाले हैं। लेकिन जब हम संघर्ष विराम चाहते थे, वे संघर्ष विराम नहीं चाहते थे और अब वे संघर्ष विराम चाहते हैं। मुझे लगता है कि ऐसे यह सफल हो पाएगा।

दरअसल अफगानिस्तान में अमेरिका के सबसे बड़े हवाई क्षेत्र में अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी के साथ जल्दबाजी में आयोजित द्विपक्षीय बैठक के दौरान उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि हम तब तक वहां रहेंगे जब तक की कोई समझौता नहीं हो जाता या हमारी पूरी तरह जीत नहीं हो जाती और वे समझौता करने को उत्सुक हैं।

देखा जाए तो ट्रंप ने इस बात की पुष्टि कर दी हैं की अफगानिस्तान में अमेरिकी सैनिकों की संख्या घटाकर 8,600 करना चाहते हैं। अभी वहां 14000 अमेरिकी सैनिक हैं,  लेकिन सैन्य अधिकारियों ने इस आंकड़े की पुष्टि नहीं की है।

=>
LIVE TV