बिजली व्यवस्था को और सुदृढ़ करने के लिए CM योगी आज गोरखपुर को देंगे 212 करोड़ की योजनाओं की सौगात

 जिले की बिजली व्यवस्था को और सुदृढ़ करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को 212.85 करोड़ रुपये की योजनाओं की सौगात देंगे। मुख्यमंत्री 12.30 करोड़ रुपये के कार्यों का लोकार्पण और 92.03 करोड़ रुपये के कार्यों का शिलान्यास करेंगे। कुल 108.52 करोड़ रुपये के कार्यों की घोषणा करेंगे।

नगर निगम क्षेत्र में आने वाले कई इलाकों में बांस-बल्ली पर बिजली आपूर्ति होती है। नागरिक काफी समय से पोल व तार लगवाने के लिए बिजली निगम के अफसरों का चक्कर काट रहे थे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नगर निगम क्षेत्र में बांस-बल्ली की जगह पोल व तार बिछाने के लिए प्रस्ताव बनाने को कहा था। बिजली निगम के अफसरों ने 10.94 करोड़ रुपये का प्रस्ताव बनाया था। मुख्यमंत्री ने तत्काल इसे स्वीकृति दे दी। खोराबार में 220 केवी पारेषण उपकेंद्र, बिछिया और दिव्यनगर में उपकेंद्रों को भी मुख्यमंत्री ने स्वीकृति दी है। इससे मोहद्दीपुर उपकेंद्र पर लोड कम होगा और इलाके के नागरिकों को कटौती व लो वोल्टेज की समस्या से निजात मिलेगी।

12.30 करोड़ के कार्यों का होगा लोकार्पण

पादरी बाजार उपकेंद्र की क्षमता 20 एमवीए हुई, इस पर कुल 25.98 लाख खर्च हुआ है। रानीबाग उपकेंद्र की क्षमता 15 एमवीए हुई। इस पर कुल 27.02 लाख रुपये खर्च किए गए हैं। खोराबार में पांच एमवीए ट्रांसफार्मर लगा है। इस पर 77.68 लाख रुपये खर्च आया है। शहर में नए ट्रांसफार्मरों की स्थापना में कुल 389.67 लाख रुपये खर्च किए गए हैं। इसी तरह से शहर में पुराने व जर्जर तार हटाए गए। इस पर कुल 310 लाख रुपये खर्च हुए हैं। शहर में पुराने तार की जगह एबी केबल लगे हैं। इस पर कुल 400 लाख रुपये खर्च किए गए हैं।

92.03 करोड़ से इनका होगा शिलान्यास

बिछिया- 10 एमवीए क्षमता के उपकेंद्र का निर्माण : 6.48 करोड़ रुपये।

महादेव झारखंडी नंबर एक- दिव्यनगर क्षेत्र में 10 एमवीए के उपकेंद्र का निर्माण – 9.44 करोड़ रुपये।

शहर में बांस-बल्ली की जगह पोल व तार लगाने का कार्य – 10.94 करोड़ रुपये।

खजनी में 80 एमवीए के 132 केवी पारेषण उपकेंद्र का निर्माण – 56.21 करोड़ रुपये।

132 केवी मोहद्दीपुर पारेषण उपकेंद्र की क्षमता बढ़ाने का कार्य – 2.65 करोड़ रुपये।

132 केवी गीडा पारेषण उपकेंद्र की क्षमता बढ़ाने का कार्य – 4.56 करोड़ रुपये।

132 केवी मोतीराम अड्डा द्वितीय पारेषण उपकेंद्र की क्षमता वृद्धि – 1.75 करोड़ रुपये।

108.52 करोड़ के कार्यों की मुख्यमंत्री करेंगे घोषणा

खोराबार में 220 केवी जीआइएस पारेषणा उपकेंद्र, क्षमता 180 एमवीए का कार्य – 101.02 करोड़ रुपये।

60 किलोमीटर जर्जर व क्षतिग्रस्त तार की जगह एलटीएबी केबल बिछाने का कार्य – 4.80 करोड़ रुपये।

100 किलोमीटर क्षतिग्रस्त व जर्जर तार हटाकर डाग तार लगाने का कार्य – 1.20 करोड़ रुपये।

1000 पोल बदलने का कार्य – 1.50 करोड़ रुपये।

बिजली व्‍यवस्‍था में होगा आमूल चूल परिवर्तन

बिजली निगम के मुख्‍य अभियंता देवेंद्र सिंह का कहना है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 212.85 करोड़ रुपये की लागत से बिजली निगम की कई योजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास करेंगे। इससे बिजली व्यवस्था में आमूलचूल परिवर्तन होगा।

=>
LIVE TV