प्रयागराज की दोनों लोकसभा सीटों पर परिवार के अपने ही हुए गैर, एक दूसरे के विपक्ष में मांग रहे वोट

रिपोर्ट :सैय्यद रजा/प्रयागराज 

देश के कई परिवारों में राजनीति का असर देखने को मिल रहा है, बचपन मे जो कभी एक साथ हुआ करते थे आज राजनीति में आने के बाद वो विरोधी बन गए है।

चाहे गांधी परिवार की बात हो, बहुगुणा परिवार की बात हो या फिर सोने लाल पटेल के परिवार की। प्रयागराज की  दोनों लोकसभा सीटों  की बात करें तो ऐसे प्रत्याशी चुनावी मैदान में है जिनके परिवार के लोग मेंं  विपक्षी दल से ताल्लुक रखते हैं।

प्रयागराज

फूलपुर सीट के  कांग्रेस प्रत्याशी पंकज निरंजन पटेल,  पल्लवी पटेल के पति हैं जो चुनावी मैदान में है पल्लवी पटेल  अनुप्रिया पटेल की  सगी बहन है . फर्क बस इतना है  अनुप्रिया पटेल  भारतीय जनता पार्टी  के पक्ष में  प्रचार करती हैं  और मोदी सरकर कि  कैबिनेट मंत्री हैं.

तो वही पल्लवी पटेल  कांग्रेस  के पक्ष में प्रचार करती हैं और उनके पति खुद  फूलपुर सीट से प्रत्याशी हैं । ऐसे ही अगर हम इलाहाबाद सीट की बात करें  तो भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी रीता बहुगुणा जोशी के भाई  शेखर बहुगुणा कांग्रेस पार्टी से  ताल्लुक रखते हैं.

मेरठ में कार से दो युवकों का शव बरामद, जांच में जुटी पुलिस

जबकि  बड़े भाई विजय बहुगुणा  भारतीय जनता पार्टी से  है ऐसे में   देश में तमाम कई परिवार है  जो एक समय  एक साथ हुआ करते थे लेकिन राजनीति में आने के बाद सब अलग हो गए ।

पल्लवी पटेल  अपने पति पंकज निरंजन पटेल के लिए फूलपुर सीट से लोगों से  वोट की अपील कर रही है.  उनका कहना है कि बचपन में  या कहें कि कॉलेज के समय तक हम दोनों बहनों की विचारधारा एक थी लेकिन  समय जैसे थे बीता क्या सोच बदली और अब  हम दोनों बहने अलग हैं  ऐसे में  राजनीति में  परिवार में दरार  पढ़ना कोई नई बात नहीं है.

=>
LIVE TV