रत छोड़कर भागे माल्या का संबंध वर्जिन आइलैंड फर्म से

एजेन्सी/  vijay-mallaya_1457521309भारतीय बैंकों का कर्ज चुकाए बिना विदेश चले गए विजय माल्या का नाम अब पनामा पेपर्स लीक्स में आ गया है। इंटरनेशनल कॉनसोर्टियम ऑफ इनवेस्टीगेटिव जर्नलिज्म की तरह से जारी किए गए पनामा पेपर्स लीक्स में पता चला है कि ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड की वेंचर कंपनी न्यू होल्डिंग लिमिटेड जोकि 15 फरवरी, 2006 से अस्तित्व में हैं। इस कंपनी का सीधा संबंध विजय माल्या से है, नाकि विजय माल्या से जुड़ी किसी कंपनी से है। ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड की वेंचर कंपनी न्यू होल्डिंग लिमिटेड का कामकाज 3 विट्टल माल्या रोड, बेंगलुरू से चल रहा है, यह विजय माल्या का स्‍थानीय पता है।

पनामा पेपर्स लीक्स में इस बात की भी पुष्टि हुई है कि विजय माल्या का पोर्टिकुल्स ट्रस्‍ट नेट से भी लेना-देना है। आईसीआईजी के मुताबिक पोर्टिकुल्स ट्रस्ट की मदद से विदेशों में खाते खोले जाते थे।

आपको बताते चले कि देश के 13 से ज्यादा बैंकों का 9,000 करोड़ रुपए का कर्ज बिना चुकाए ही विजय माल्या विदेश चले गए। इस बात की जानकारी किसी को भी नहीं हो सकी। विजय माल्या से बाकाया वसूल करने के लिए देश के बैंक सुप्रीम कोर्ट पहुंच चुके हैं। वहीं ईडी की तरफ से भी विजय माल्या को नोटिस जारी किए जा रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट ने अगली सुनवाई पर अपनी संपत्ति की जानकारी देनी के लिए विजय माल्या को नोटिस भी जारी किया है।

 
 
=>
LIVE TV