पंखे के हुक से लटकते मिले मां-बेटी के शव महिला ने घरेलू कलह में उठाया ये कदम…

जनपद के चिल्ला कस्बे में एक मां ने पहले अपनी दो वर्षीय मासूम बेटी का गला घोट फांसी के फंदे में लटका दिया, फिर खुद भी मौत को गले लगा लिया। घटना उस वक्त हुई जब पति घर के बाहर गया था। महिला के ये आत्मघाती कदम उठाने के पीछे प्रथम दृष्टया घरेलू कलह बताई जा रही है। पुलिस की जांच में मृतका के पति द्वारा दो-दो विवाह करने की बात भी सामने आई है।

घटना के समय पति गया था घर से बाहर

चिल्ला कस्बा निवासी शिवदास निषाद की 28 वर्षीय पत्नी रजनी और दो वर्षीय बेटी शालिनी का शव में मंगलवार को भोर पहर कमरे में पंखे के हुक से लटके मिले। घटना के समय पति शिवदास घर के बाहर गया हुआ था। सुबह करीब छह बजे जब वह वापस घर लौटा तो पत्नी व बेटी की कोई आहट नहीं मिली। उसने आवाज लगाई, लेकिन जब कोई जवाब नहीं मिला तो शक होने पर उसने कमरे की खिड़की खोली। देखा कि एक पल्लू से बेटी का गला कसा था तो दूसरी से खुद रजनी छत के हुक से फंदे पर लटक रही थी।

थानाध्यक्ष रामाश्रय सिंह ने बताया कि पूरे प्रकरण की जांच की जा रही है। प्रथम दृष्टया घरेलू कलह के कारण घटना प्रतीत हो रहा है। यह भी बात सामने आई है कि शिवदास ने दो शादियां की थीं। रजनी के साथ उसने प्रेम विवाह किया था। घटना के सारे पहलुओं की जांच की जा रही है। 

=>
LIVE TV