नमामि गंगे अभियान के तहत गंगा ग्रीन मिशन के महानिदेशक ने शहर के घाटों का किया निरीक्षण…

रिपोर्ट- राहुल कटियार

PALEC-KANPUR

बुधवार को गंगा की स्वच्छता के मद्देनजर नमामि गंगे अभियान के तहत नेशनल गंगा ग्रीन मिशन के महानिदेशक और नगर विकास के विभाग के प्रमुख सचिव ने कानपुर पहुंचकर आलाधिकारियो के साथ शहर के तमाम घाटों पर पड़ने वाले नालों का स्टीमर द्वारा गहनता से निरीक्षण किया गया। इस दौरान उनके साथ मण्डलायुक्त, डीएम और नगर आयुक्त भी मौजूद रहे।

 

 

 

आपको बता दें कि गंगा की स्वच्छता को लेकर लगातार नमामि गंगे अभियान के तहत एनजीटी की टीम शहर के तमाम घाटों में पड़ने वाले नालों की टेपिंग और प्रगति रिपोर्ट जानने के लिए निरीक्षण कर रही है इसी क्रम में आज नेशनल गंगा ग्रीन मिशन के महानिदेशक राजीव रंजन मिश्रा और नगर विकास विभाग के प्रमुख सचिव मनोज सिंह ने स्ट्रीमर द्वारा अटल घाट से लेकर बीच में पड़ने वाले सभी 8 नालों का निरीक्षण किया।

नालियों के गंदे पानी से होकर गुजरते हैं स्कूली छात्र-छात्राएं

 

इस दौरान टीम जब स्टीमर से एशिया के सबसे बड़े सीसामऊ नाले पहुंची तो वहां उन्हें नाला गिरता नही मिला और वह आगे निकल गए। वही सूत्रों की माने तो अगले माह पीएम का कानपुर दौरा है जिसको लेकर वह नालों का भी निरीक्षण कर सकते है जिसके लिए यह निरीक्षण किया गया है।

नेशनल ग्रीन गंगा मिशन के महानिदेशक राजीव रंजन मिश्रा ने बताया कि नमामि गंगे अभियान के तहत गंगा की अविरलता और स्वच्छता को लेकर निरीक्षण किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि घाटों में पड़ने वाले नालों की टेपिंग और उसकी प्रगति को देखा जिस पर आलाधिकारियो से इस बारे में बैठक कर आगे की रणनीति बनाने की बात कही कि कैसे इन सभी को टाइम लाइन पर दुरुस्त किया जाए। वही टीम ने सबसे बड़े सीसामऊ नाले का भी निरीक्षण किया जहां नाला से पानी गंगा में नही गिरता मिला।

 

महानिदेशक ने घाटों पर पड़ी गंदगी देख जरूर नाराजगी जताई और उसे स्वच्छ करने के लिये निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि कानपुर को प्राथमिकता से लिया गया है क्योंकि यहां प्रदूषण का केंद्र भी है। इसलिए घाटों में पड़ने वाले नालों का निरीक्षण कर इनकी प्रगति की जानकारी की है। पानी की स्वच्छता को लेकर  जो पुरानी एसटीपी और नई एसटीपी बनाई जा रही है उसका कार्य एक संस्था को दिया गया है यह 15 साल तक इन दोनों को समय समय पर देखेंगी और मेंटेन भी करेंगी। साथ ही घाटों का भी निर्माण पर ध्यान दिया जा रहा है जिससे लोगों को काफी सुविधा मिलेगी।

 

=>
LIVE TV