धूल भरी आंधी के साथ चीन से आ सकता है कोरोना संक्रमण, उत्तर कोरिया ने दी चेतावनी

पूरा विश्व चीन से बेहद परेशान हो चुका है। हर दिन चीन में कुछ ना कुछ होता ही रहता है जिसका प्रभाव आस-पास के लोंगो पर भी पड़ता है। ऐसा ही कुछ चीन में फिर हो रहा है। दरअसल, चीन से धूल भरी आंधी चल रही है जिसे सीजनल यल्लो डस्ट भी कहते हैं। जिसको लेकर उत्तर कोरिया ने अपनी जनता को चेतावनी देते हुए कहा कि इस आंधी के साथ कोरोना वायरस भी उड़ कर आ सकता है जिसको लेकर हमे सतर्क रहना चाहिए।

उत्तर कोरिया के ऑफिशियल अखबार रोडोंग सिनमुन ने गुरुवार को अपने अखबार के माध्यम से बताया कि ‘पहले से ही पूरा विश्व कोरोना महामारी से लड़ रहा है और अब एक और संकट आ गया है, चीन से धूल भरी आंधी चल चुकी जो कि नया कोरोना वायरस ला सकती है। हमें इस विषय पर उचित कार्यवाही करनी होगी।’

विषेशज्ञों ने ऐसा दावा किया है कि उत्तर कोरिया से महज 1,950 किमी दूर गोबी रेगिस्तान के कारण यहां कोरोना संक्रमण फैल सकता है। चिकित्सा के सलाहकारों ने इस महामारी से बचने का एक उपाए बताया है कि हमे भीड़-भाड़ से बचना होगा साथ ही मास्क का प्रयोग करते हुए 6 फीट की दूरी का पालन करना होगा। यदि बात करें US सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के द्वारा बताई गई जानकारी को तो कोरोना संक्रमण फैलाने वाले ड्राप्लेट कई घंटों तक हवा में रह सकते हैं जिसको देखते हुए हमे मास्क का उपयोग हमेशा करना होगा।

उपर्युक्त अखबार ने उत्तर कोरिया के लोगों को संबाधित करते हुए कहा कि अब कोरोना महामारी फैलने की अशंका अधिक हो गई है जिसके कारण हमें अपने घरों से निकलते ही मास्क लगाना होगा व कोरोना से बचने के लिए सरकार द्वारा दिए गए दिशानिर्देश का पालन करना होगा। वहीं उत्तर कोरिया के स्वास्थ विशेषज्ञों ने इस विषय पर सवालिया निशान बनाते हुए शंका जताई ह

=>
LIVE TV