तहसील दिवस में नहीं हुई ग्रामीण की सुनवाई, प्रशासन से इच्छा मृत्यु की मांग

REPORT:-NAGENDRA TYAGI/AGRA

एत्मादपुर तहसील में अपनी समस्या के निराकरण ना होने से प्रशासनिक रवैये से नाराज एक ग्रामीण ने एसडीएम एत्मादपुर के जरिए प्रदेश सरकार से इच्छा मृत्यु की मांग की है। ग्रामीणों ने तहसील दिवस में नाली विवाद के चलते खुद के साथ हुई मारपीट की शिकायत की थी जिस पर कोई कार्यवाही ना होने के बाद ग्रामीण परेशान है।

इच्छा मृत्यु की मांग

आपके कैमरे पर दिख रहा यह शख्स एत्मादपुर तहसील क्षेत्र के गांव अमानाबाद का निवासी विशंभर सिंह है। यह शख्स उत्तर प्रदेश सरकार से इच्छा मृत्यु की मांग कर रहा है। आइए अब आपको पूरा माजरा बताते हैं।  विशंभर सिंह एत्मादपुर तहसील पहुंचे और उन्होंने एसडीएम एत्मादपुर ज्योति राव को एक प्रार्थना पत्र देते हुए उत्तर प्रदेश सरकार से इच्छा मृत्यु देने की मांग की। उनका कहना था कि प्रधान पति हरि सिंह गांव के कुछ अन्य ग्रामीणों के साथ मिलकर गलत तरीके से नाली निर्माण करा रहे हैं जिसमें उनके घर का चबूतरा भी फोड़ दिया गया है। जिसका विरोध जब बिशंबर सिंह ने किया तो प्रधान पति ने कुछ बंदूकधारियों के साथ मिलकर उनके और उनके परिजनों के साथ मारपीट की।

मुस्लिम बुनकरों ने योगी के सम्मान में किया धन्यवाद सभा का आयोजन

इसके अलावा बिशंबर सिंह ने बताया कि इसकी शिकायत उन्होंने तहसील दिवस में पहले भी की लेकिन किसी भी संबंधित अधिकारी ने इसका संज्ञान नहीं लिया जिस वजह से उनके मान-सम्मान और उनके परिवार के साथ जान का खतरा बना हुआ है इसलिए वह दबंगों की वजह सम्मान से इच्छा मृत्यु के साथ मरना चाहते हैं वही इस संबंध में एसडीएम एत्मादपुर ज्योति राव ने बताया कि ग्राम प्रधान और संबंधित अधिकारियों व ठेकेदार से बात की जा रही है जांच कर आवश्यक कार्यवाही की जाएगी।

=>
LIVE TV