डु प्लेसिस-“अपनी क्षमता से खेले तो हम चैंपियन बनेंगे…”

south-africa_landscape_1457766906एजेंसी/हर बार की तरह इस बार भी दक्षिण अफ्रीका को आईसीसी वर्ल्ड खिताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा है, लेकिन क्रिकेट के वैश्विक टूर्नामेंट में नाजुक मोड़ पर उसकी टीम जीत की पटरी से उतर जाती है।

90 के दशक की शुरुआत में अंतरराष्टीय क्रिकेट जगत में लौटने के बाद से इस अफ्रीकी टीम का प्रदर्शन बेजोड़ रहा है, पर वह आज तक आईसीसी के किसी भी बड़े टूर्नामेंट को जीत नहीं सका है। वनडे में 7 (1992-2015) और 5 बार टी-20 वर्ल्ड कप (2007-14) में खेलने के बाद भी खिताबी जीत की आस बनी हुई है। फटाफट क्रिकेट के वर्ल्ड कप में यह टीम 2009 और 2014 में सेमीफाइनल में पहुंची थी। साथ ही पिछले साल वनडे वर्ल्ड कप में भी अंतिम 4 में पहुंचकर टीम ने अपना सफर खत्म कर लिया था।

बड़े टूर्नामेंटों में फ्लॉप शो दिखाने के कारण इस टीम को क्रिकेट वर्ल्ड का चोकर्स कहा जाने लगा। हर बार वर्ल्ड कप से पहले टीम के कप्तान और खिलाड़ी दावा करते हैं कि उनकी टीम इस बार चोकर्स का दाग धो देगी पर वो कामयाबी अभी भी इस टीम से दूर है।

भारत में हो रहे टी-20 वर्ल्ड कप में भाग लेने के लिए अफ्रीकी टीम शुक्रवार को मुंबई पहुंच गई है और एक बार फिर कप्तान ने टीम का पुरान राग दोहराया है। दक्षिण अफ्रीकी टीम के कप्तान फैफ डु प्लेसिस का कहना है कि यदि टीम अपनी क्षमता से खेली तो इस बार वर्ल्ड टी-20 का खिताब दक्षिण अफ्रीका की झोली में होगा और साथ ही टीम के साथ लगा चोकर्स का तमगा भी हमेशा के लिए हट जाएगा।

उनका कहना है कि इस बार टीम पिछले 18 महीने से तैयारी कर रही है। भारतीय मैदान हमारे लिए अनजान नहीं है। 3 महीने पहले ही हमने 72 दिन के भारत दौरे में जीत हासिल की थी।

पत्रकारों से बातचीत में फैफ डु प्लेसिस ने कहा कि हम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपनी पिछली टी-20 सीरीज में मिली हार (1-2) से थोड़ा निराश भी हैं लेकिन भारतीय उपमहाद्वीप में हमने अच्छी क्रिकेट खेली है। भारत की मेजबानी में हो रहे वर्ल्ड टी-20 में बेहतर प्रदर्शन को लेकर टीम आश्वस्त है।

दक्षिण अफ्रीकी कप्तान मेजबान टीम इंडिया को प्रबल दावेदारों में शामिल करते हैं लेकिन उनका कहना है कि यह टूर्नामेंट हर टीम के लिए खुला है। तीसरे टी-20 वर्ल्ड कप में हिस्सा ले रहे फैफ डु प्लेसिस ने कहा कि दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ियों के लिए भारत में खेलना बड़ी चुनौती नहीं है क्योंकि उनकी टीम के खिलाड़ी आईपीएल में खेलते रहे हैं। उन्होंने कहा, “जिस तरह टीम इंडिया आजकल खेल रही है वो निश्चित रूप से खिताब की दावेदार है लेकिन टी-20 में कोई भी टीम किसी को हरा सकती है। लिहाजा हर टीम के लिए चुनौती खुली है।”

=>
LIVE TV