डायरिया से बचने के लिए सबसे ज़रूरी है सफाई, देखें ये खास रिपोर्ट !…

रिपोर्ट – अमन कुमार

लखनऊ : बदलते मौसम के साथ दिन-प्रतिदिन बीमारियां भी बढ़ रही है जिसका सबसे ज्यादा प्रभाव छोटे बच्चों पर पड़ रहा है | बढ़ती गर्मी के साथ कई समस्याएं उभर कर सामने आ रही हैं |

जिसमें डायरिया छोटे बच्चों के लिए दिन-प्रतिदिन विकराल रूप लेता जा रहा है सिविल अस्पताल के बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर अर्चना ने बताया कि बढ़ती गर्मी में डायरिया की समस्या भी बढ़ जाती है |

उसका खास प्रभाव छोटे बच्चों पर होता है यह आवश्यक है कि डायरिया की समस्या होते ही बच्चे को नजदीक के चिकित्सालय में दिखाएं ।

डॉ अर्चना ने कहा कि डायरिया फैलने का मुख्य कारण सफाई ना होना है डायरिया से बचने के लिए सबसे आवश्यक है कि सफाई का खास ध्यान रखें |

बाहर से आने के बाद सबसे पहले हाथ मुँह साफ धोलें उसके बाद ही छोटे बच्चों को छुए क्योंकि छोटे बच्चों में इन्फेक्शन तेजी से फैलता है और यह डायरिया का मुख्य कारण है ।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि बहुत छोटे बच्चों को 6 माह तक मां का दूध ही देना चाहिए 6 माह के बच्चों के लिए मां का दूध बहुत जरूरी है जिससे डायरिया का खतरा काफी कम हो जाता है |

सब्जि़यों को खाने में न हो कोई तकलीफ़, तो बनाईए ब्रुश्शैटा घर में तुरंत

इसके साथ ही कहा कि पीने के लिए उबले हुए पानी का या ज्यादा से ज्यादा स्वच्छ जल का प्रयोग करें जिस से डायरिया का प्रतिशत काफी कम हो जाता है साथ ही कहा कि छोटे बच्चों में ज्यादातर वायरल डायरिया होता है |

जो कि जुखाम खांसी के साथ होता है डॉ अर्चना ने कहा कि बच्चों की आदत होती है जमीन पर चलना और कोई भी चीज उठाकर मुंह में डाल लेना जिससे संक्रमण होता है ऐसे में जरूरी है कि बच्चे को जमीन पर ना खेलने दें |

जहां बच्चा रहे वहां जमीन पर चादर,  दरी,  चटाई वगैरह बिछा दें और जहां बच्चे खेले वहां पर कोई भी जूता चप्पल पहन कर ना जाए डायरिया से बचने के लिए सफाई मुख्य रूप से सबसे आवश्यक है ।

 

=>
LIVE TV