झारखंड में कोरोना का कहर जारी, 24 घंटों में कुल 284 नए कोरोना संक्रमितों की हुई पुष्टि

झारखंड में कोरोना का कहर जारी है। राज्‍य में संक्रमितों की संख्‍या लगातार बढ़ रही है। पिछले 24 घंटों में कुल 284 नए कोरोना संक्रमितों की पुष्टि हुई। इसमें रांची से 127, देवघर से 1, धनबाद से 26, पूर्वी सिंहभूम से 35, गढ़वा से 4, गिरीडीह से 4, हजारीबाग से 5, पलामू से 26, रामगढ़ से 6, सरायकेला से 32, सिमडेगा से 1, पश्चिमी सिंहभूम से 17 मरीज शामिल हैं। राज्य में पॉजिटिव मरीजाें कुल आंकड़ा 7893 पर पहुंच गया है। वहीं, तीन जिलों में कोरोना पॉजिटिव 8 मरीजों की मौत भी हुई। मरने वालों में रांची, रामगढ़ और धनबाद से 1-1 मरीज, जबकि जमशेदपुर में 5 लोग शामिल हैं।

कोरोना जांच तेज करें, अस्पतालों में बेड बढ़ाए: राज्यपाल

इधर, राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने आदेश दिया है कि हाल के दिनों में तेजी से बढ़ रहा कोरोना संक्रमण चिंताजनक है। इसलिए अस्पतालों में शीघ्र बेड बढ़ाए जाएं और सैंपल टेस्टिंग और तेज की जाए। इस विपदा से हम लोग कैसे निबट सकें, इसके लिए एक रणनीति के तहत कार्य करना होगा। राज्यपाल शनिवार को मुख्य सचिव सुखदेव सिंह और स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव नितिन मदन कुलकर्णी के साथ कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा कर रही थीं। उन्होंने दोनों अधिकारियों को राजभवन बुलाया था। समीक्षा के दौरान राज्यपाल के प्रधान सचिव शैलेश कुमार सिंह भी उपस्थित थे। राज्यपाल ने प्रवासी मजदूरों, दिहाड़ी मजदूरों के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले मजदूरों को रोजगार दिए जाने पर भी चर्चा की।

बिना लक्षण वालों को अस्पतालों से लौटाया, कहा- घर में ही करें इलाज
वहीं, रांची में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। पिछले पांच दिनों के आंकड़े इसकी भयावहता को दर्शा रहे हैं। क्योंकि इन पांच दिनों में रांची में 584 मरीज मिले हैं। यानी औसतन 117 मरीज। वहीं, कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1343 हो गई है। इनमें 322 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। यानी 1021 एक्टिव केस हैं। दिनों-दिन बढ़ते संक्रमण से लोगों को इलाज मिलना भी मुश्किल होता जा रहा है। स्थिति ऐसी हो गई है कि लक्षण वाले लोगों को कोविड अस्पताल में भर्ती नहीं किया जा रहा। ऐसे में जिन लोगों के पास अपने घर में जगह है, वे होम आइसोलेट हो रहे हैं। लेकिन जिनके पास जगह नहीं, उनके पास पैसा देकर होटल या बैंक्वेट हॉल में आइसोलेट होने के अलावा कोई विकल्प नहीं। रांची में 200 से अधिक संक्रमित ऐसे हैं, जो होम आइसोलेट हैं। इनमें से 40 फीसदी लोगों ने बताया कि रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद वे खुद कोविड अस्पताल में भर्ती होना चाहते थे, लेकिन बेड नहीं होने की बात कहकर उन्हें होम आइसोलेट या किसी निजी कोविड केयर सेंटर में जाने को कहा गया।

राज्य के सभी 24 जिलों में पहुंच चुका है कोरोना संक्रमण
कोरोनावायरस का संक्रमण राज्य के सभी 24 जिलों तक पहुंच चुका है। राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 7893 है। इनमें बोकारो के 149, चतरा के 238, देवघर के 148, धनबाद के 492, दुमका के 46, पूर्वी सिंहभूम के 1241, गढ़वा के 388, गिरिडीह के 268, गोड्डा के 93, गुमला के 201, हजारीबाग के 493, जामताड़ा के 49, खूंटी के 46, कोडरमा के 411, लातेहार के 226, लोहरदगा के 196, पाकुड़ के 199, पलामू के 241, रामगढ़ के 326, रांची के 1343, साहेबगंज के 148, सरायकेला के 185, सिमडेगा के 401 और पश्चिमी सिंहभूम के 192 मरीज शामिल हैं।

अब तक राज्य में 97 संक्रमितों की मौत
राज्यभर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 97 है। इनमें रांची के 17, धनबाद 13, पूर्वी सिंहभूम में 27, हजारीबाग में 06, गिरिडीह में 04, गोड्डा में 03, सरायकेला में 04, बोकारो, देवघर, गुमला, साहेबगंज, चतरा, गढ़वा, रामगढ़ और कोडरमा में 02-02, जबकि पश्चिमी सिंहभूम, सिमडेगा, खूंटी और देवघर के 01-01 मरीज की मौत हो चुकी है। प्रशासन राज्य में रिटायर्ड डीडीसी और बंगाल के एक मजदूर की मौत को आंकड़े में शामिल नहीं किया है।

राज्य में अब तक 3409 मरीज हो चुके हैं स्वस्थ
राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों में कुल 3409 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। इनमें बोकारो के 76, चतरा के 136, देवघर के 73, धनबाद के 179, दुमका के 29, पूर्वी सिंहभूम के 419, गढ़वा के 106, गिरिडीह के 138, गोड्डा के 19, गुमला के 103, हजारीबाग के 262, जामताड़ा के 29, खूंटी के 36, कोडरमा के 234, लातेहार के 66, लोहरदगा के 107, पाकुड़ के 79, पलामू के 114, रामगढ़ के 161, रांची के 322, साहेबगंज के 20, सरायकेला के 77, सिमडेगा के 370 और पश्चिमी सिंहभूम के 115 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं।

=>
LIVE TV