जिला प्रशासन ने किया आगाह अमेरिका फ्रांस आस्ट्रेलिया की तरह से आगरा में तेजी से बढ रहे कोरोना के केस

ताजनगरी में कोरोना की सेकेंड वेव के लिए आगाह किया गया है। यहां अगस्त में 29 दिन में 968 केस आ चुके हैं। ऐसे में शारीरिक दूरी, मास्क और घर पर रहने से कोरोना के संक्रमण से बच सकते हैं। अमेरिका, फ्रांस, आस्ट्रेलिया, जापान की तरह से ताजनगरी में कोरोना की सेकेंड वेव आ चुकी है। अगस्त में कोरोना के केस तेजी से बढे हैं। 29 दिन में कोरोना के 968 नए केस आ चुके हैं, केस तेजी से बढ रहे हैं। इससे पहले अप्रैल और मई में कोरोना के केस बढे थे, वह कोरोना की फस्ट्र वेव थी। सीएमओ डॉ आरसी पांडे ने बताया कि कोरोना के केस तेजी से बढ रहे हैं, वेबजह बाहर ना निकलें। मास्क और शारीरिक दूरी का पालन करने से ही कोरोना से बच सकते हैं।

सरकारी कार्यालय में कोरोना संक्रमित मिलने से बढा खतरा मंडलायुक्त कार्यालय, डीवीवीएनएल कार्यालय, एसपी सिटी कार्यालय, एडीए, नगर निगम में कोरोना केस मिल रहे हैं। यहां आम लोग आते हैं, इससे संक्रमण का खतरा बढता जा रहा है। एक संक्रमित से 10 को कोरोना का संक्रमण फैलने का खतरा कोरोना संक्रमित एक मरीज से 10 स्वस्थ लोग संक्रमित हो सकते हैं। विशेषज्ञों के अनुसार कोरोना का संक्रमण तेजी से फैलता है। ऐसे में कोरोना संक्रमित मरीज के संपर्क में आने वाले लोग सावधानी नहीं बरते हैं तो वे संक्रमित हो सकते हैं। सार्वजनिक स्थल और कार्यालयों में भीड बढने के बाद लापरवाही बरतने पर केस तेजी से बढने का खतरा है। कम बाहर निकलना, मास्क, शारीरिक दूरी और हाथ की सफाई से बचाव विशेषज्ञों के अनुसार, कोरोना का संक्रमण मुंह और छींक के दौरान नाक से निकलने वाली सूक्ष्म बूंदों से फैलता है, ऐसे में कोरोना संक्रमित मरीज और उसके संपर्क में आने वाले लोग मास्क लगाते हैं तो संक्रमण का खतरा कम हो जाता है। छह फीट की दूरी बनाने और हाथ को साबुन से धोने और सैनेटाइज करने से संक्रमण की आशंका नहीं रहती है। इस सबके साथ ही जरूरी हो तो ही घर से बाहर निकलें। आगरा में कोरोना के केस मार्च में केस 12 एक से 30 अप्रैल तक केस 4151 मई से 31 मई तक केस 472 एक से 30 जून तक 328, एक से 31 जुलाई 577 एक अगस्त से 29 अगस्त तक 968 केस हो चुके हैं। अभी तो इस महीने में दो दिन बाकी हैं। 

=>
LIVE TV