जामिया हिंसा को लेकर सामने आया एक और वीडियो, फिर बढ़ी दिल्ली पुलिस की परेशानी

एक तरफ जहाँ CAA को लेकर दिल्ली में प्रदर्शन शांत होने का नाम नहीं ले रहा है, वहीँ दूसरी ओर जामिया में हिंसा को लेकर रोज नए वीडियो आते जा रहे हैं. हाल ही में जामिया विश्वविद्यालय की लाइब्रेरी में हिंसा को लेकर एक और वीडियो सामने आया है. जिसने फिर से दिल्ली पुलिस की परेशानी बढ़ा दी है. पुलिस को आशंका है कि कहीं जांच को प्रभावित करने के लिए ही ये वीडियो वायरल न कराए जा रहे हों. मंगलवार देर रात दिल्ली पुलिस मुख्यालय ने इसकी जानकारी खुद ही अधिकृत बयान जारी करके दी.

जामिया हिंसा का वीडियो

लाइब्रेरी में सबूत तलाश रही SIT-

दिल्ली पुलिस मुख्यालय द्वारा जारी अधिकृत बयान के अनुसार, ‘जामिया मिलिया इस्लामिया की लाइब्रेरी में काफी देर तक एसआईटी टीम मौजूद रही. टीम ने उन स्थानों का भी गहन निरीक्षण किया जो वीडियो में दिखाई पड़ रहे हैं.’ जामिया मिलिया परिसर में पहुंची दिल्ली पुलिस अपराध शाखा की एसआईटी ने स्टाफ और छात्रों से भी बातचीत की. बातचीत का मकसद था हर बिंदु की तह तक पहुंचना. इस अवसर पर विवि के चीफ प्रॉक्टर ने भी सहयोगात्मक रवैया अख्तियार किया.

राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की पहली बैठक आज, महंत नृत्य गोपाल दास को भी मिला आमंत्रण

वीडियो को लेकर बढ़ी दिल्ली पुलिस की परेशानी-

दिल्ली पुलिस मुख्यालय के बयान के मुताबिक, ‘जामिया मिलिया विश्वविद्यालय परिसर में एसआईटी टीम के सदस्य करीब 3 घंटे मौजूद रहे.’ बीते साल बीच दिसंबर में जामिया जाकिर नगर में हुए हिंसा के वीडियो अब एक के बाद एक कहां से, क्यों और कैसे बाहर आ रहे हैं? इस सवाल को लेकर दिल्ली पुलिस संजीदा हो गई है. तीन-चार दिनों से मीडिया में उछल रहे वीडियो की जांच दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की एसआईटी ने शुरू कर दी है.

=>
LIVE TV