जाने कहां तक पहुंची सुशांत की सुसाइड जांच जल्द हो सकता है खुलासा

सुशांत सिंह राजपूत के निधन को दो हफ्ते से ज्यादा हो चुके हैं लेकिन सोशल मीडिया से लेकर राजनीतिक गलियारों तक हर जगह अब भी सुशांत को न्याय दिलाने की बातें हो रही हैं. दरअसल  पुलिस शुरुआती जांच और पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के आधार पर सुशांत के निधन को आत्महत्या बता रही हैं  जबकि सुशांत के फैन्स, फैमिली और कुछ दिग्गज नेता और अभिनेता इसे मर्डर बता रहे हैं और कई लोग इस मामले में सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं. अब तक इस मामले में तकरीबन 30 लोगों से पूछताछ की जा चुकी है. कई बड़े नाम जैसे संजय लीला भंसाली से पूछताछ जल्द होने वाली है.

सुशांत के निधन 14 जून दोपहर को आई थी. उसी रात को पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सुशांत की मौत की वजह आत्महत्या बताई गई वही 25 जून को फाइनल पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ गई थी.  5 डॉक्टर्स की टीम ने इस रिपोर्ट को तैयार किया था. इस रिपोर्ट में भी कहा गया कि सुशांत की मौत फांसी लगाने के बाद दम घुटने से हुई है. इसके अलावा सुशांत की विसरा रिपोर्ट भी 16 दिनों बाद आ चुकी है जिसमें कहा गया है कि सुशांत के शरीर में किसी भी तरह का संदिग्ध केमिकल या जहर नहीं पाया गया है और ये आत्महत्या का मामला है.

मुंबई पुलिस ने इस मामले में सबसे पहले सुशांत का सामान लाने वाले दीपेश सावंत, दो रसोईये और उस चाभी बनाने वाले के बयान दर्ज किए जिसने दरवाजा खोलने में मदद की थी. इसके अलावा उनके क्रिएटिव मैनेजर सिद्धार्थ पीठानी का बयान भी दर्ज किया गया था.

इसके बाद सुशांत की फैमिली से पूछताछ की गई और पुलिस ने सुशांत के पिता के. के. सिंह, दो बहनों के बयान रिकॉर्ड किए. बातचीत से ये पता चला कि सुशांत पिछले 6 महीनों से डिप्रेशन में थे. पुलिस ने सुशांत के उस डॉक्टर का बयान भी लिया, जो उनके डिप्रेशन का इलाज कर रहे थे. सुशांत का इलाज मुंबई के जसलोक हॉस्पिटल में चल रहा था. सुशांत के कजन और बीजेपी नेता नीरज ने अपने बयान में कहा था कि सुशांत कमजोर इंसान नहीं था और आत्महत्या जैसा कदम नहीं उठा सकता है.

सुशांत के करीबी दोस्त महेश शेट्टी का स्टेटमेंट भी लिया गया था क्योंकि सुसाइड से पहले वाली रात सुशांत ने उन्हें ही फोन किया था, जिसे वे रिसीव नहीं कर पाए थे. महेश सुशांत और उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती के भी कॉमन फ्रेंड हैं.

18 जून को सुशांत की पी.आर. टीम से राधिका निहलानी और बिजनेस मैनेजर श्रुति मोदी के स्टेटमेंट लिए गए थे.  इन बयानों में सामने आया कि सुशांत बॉलीवुड के अलावा भी कई चीजों में हाथ आजमाना चाहते थे.  वे नेशन इंडिया फॉर वर्ल्ड नाम से एक सामाजिक संस्था भी बनाना चाहते थे, इस संस्था के जरिए वे कॉलेज स्टूडेंट्स के साथ मिलकर पर्यावरण और समाज के लिए काम करना चाहते थे और एक रियलिस्टिक वर्चुअल गेम्स कंपनी भी प्लान कर रहे थे.

मुंबई पुलिस ने इसके बाद रिया चक्रवर्ती से कई घंटे पूछताछ हुई. उन्होंने अपने बयान में स्वीकार किया कि दोनों जल्द शादी करने वाले थे. रिया के मुताबिक, सितंबर 2019 में फिल्म ‘दिल बेचारा’ पूरी करने के बाद से ही सुशांत में डिप्रेशन के लक्षण नजर आने लगे थे. उनके हाथ से काम जा रहा था और वे अकेले रहना चाहते थे इसलिए रिया ने उनका घर छोड़ दिया था. हालांकि कॉल्स और मैसेज के सहारे दोनों एक दूसरे से जुड़े थे. सुशांत का बांद्रा हाउस के हॉन्टेड होने की बात भी सामने आई थी. सुशांत ने सुसाइड से एक रात पहले रिया को कॉल भी किया था लेकिन फोन पिक नहीं कर पाई थीं.

पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने कास्टिंग डायरेक्टर और सुशांत की आखिरी फिल्म ‘दिल बेचारा’ के निर्देशक मुकेश छाबड़ा का बयान दर्ज किया. छाबड़ा से तकरीबन 7 घंटे लंबी पूछताछ चली थी.  छाबड़ा के मुताबिक, वे सुशांत के साथ अच्छी बॉन्डिंग शेयर करते थे लेकिन उन्हें सुशांत के डिप्रेशन के बारे में अंदाजा नहीं था.

सुशांत ने साल 2012 में यशराज फिल्म्स के साथ तीन फिल्मों का कॉन्ट्रैक्ट किया था. 18 जून को पुलिस ने यशराज फिल्म्स से उस कॉन्ट्रैक्ट की कॉपी मांगी थी. 19 जून को यशराज फिल्म्स ने कॉन्ट्रैक्ट की कॉपी पुलिस को दे दी. इस कॉन्ट्रेक्ट के अनुसार सुशांत की दो फिल्में ‘शुद्ध देसी रोमांस’ और ‘ब्योमकेश बक्शी’ बन चुकी थीं. तीसरी फिल्म ‘पानी’ थी, जो ठंडे बस्ते में चली गई थी, जिसका कारण फिल्म का ओवर बजट बताया गया. इस फिल्म को शेखर कपूर डायरेक्ट कर रहे थे. शेखर कपूर ने बताया था कि सुशांत इस फिल्म के बंद होने से काफी निराश हुए थे. शेखर की इससे पहले भी कुछ फिल्में बंद हो चुकी हैं.

=>
LIVE TV