छिलका समझकर जिसे फेंक देते हैं आप, अब वहीं चीज काले करेगी आपके सफेद बाल

बढ़ते तनाव और प्रदूषण की वजह से आजकल कम उम्र में ही लोग सफेद बालों की शिकायत करना शुरू कर देते हैं। ऐसे में अपने सफेद बालों को काला करने के लिए लोग मार्केट में मिलने वाले कई तरह के कलर का प्रयोग करते है लेकिन कलर में मौजूद केमिकल की वजह से लोगों के बाल झड़ने लगते हैं। ऐसे में आइए जानते हैं आखिर कैसे इस सब्जी का ये छिलका आपकी सारी परेशानी दूर कर सकता है।

छिलका
अगर आप भी इसी तरह की समस्या को झेल रहे हैं तो अब परेशान होना छोड़ दीजिए। शायद ही किसी को पता हो कि स्वाद बढ़ाने के साथ-साथ इस सब्जी का छिलका असमय सफेद होने वाले आपके बालों को काला करने के साथ उन्हें चमकदार भी बनाता है।

जानिए क्या बॉलीवुड अभिनेता टाइगर श्रॉफ और दिशा पटानी ने कर ली है सगाई?
बालों को काला करने के लिए आलू के छिलके का इस्तेमाल किया जाता है। यह नुस्खा कई सालों से आजमाया हुआ है। आलू के छिलके में मौजूद स्टार्च एक प्राकृतिक कलर के रूप में काम करता है।आलू के छिलके के हेयर मास्क में मौजूद विटामिन ए, बी और सी स्कैल्प पर जमे तेल को हटाकर बालों में डैंड्रफ नहीं होने देते हैं। इतना ही नहीं आलू में आयरन, जिंक, पोटेशियम और कैल्शियम जैसे कई मिनरल्स होने की वजह से बालों का गिरना भी कम होता है।
बनाने का तरीका
सबसे पहले आलू के छिलके उतार लें। इसके बाद इन छिलको को एक कप ठंडे पानी में डालकर अच्छे से उबालें। जब यह पूरी तरह उबल जाए, तो इसे 5 से 10 मिनट तक धीमी आंच पर पकाएं। फिर इस मिश्रण को थोड़ी देर के लिए ठंडा होने के लिए रख दें। इस पानी को एक जार में भरकर रख दें। इस आलू के पानी से आने वाली तीखी गंध से छुटकारा पाने के लिए आप इसमें कुछ बूंद लैवेंडर ऑयल की भी डाल सकते हैं।

हाथरस में मोदी सरकार की गाड़ी पर लगा ब्रेक, ‘वंदे भारत एक्सप्रेस’ रुकी
लगाने का तरीका
इस मिश्रण को यदि साफ और गीले बालों में लगाया जाये तो आलू के छिलके का ये पानी ज्यादा बेहतर रिजल्ट देता है। आलू के छिलके के इस पानी को आप अपने स्कैल्प पर धीरे-धीरे 5 मिनट मसाज देने के साथ लगाकर थोड़ी देर के लिए छोड़ दें। इस आलू के पानी को 30 मिनट तक अपने बालों में ऐसे ही लगा छोड़ दें। इसके बाद इसे ठंडे पानी से धो लें।

=>
LIVE TV