छठ पूजा में शुभ फल की प्राप्ति के लिए इन 7 चीजों को जरूर करें शामिल

छठ महापर्व हर साल कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष के चतुर्थी से सप्तमी तिथि तक मनाया जाता हैं। विशेष तौर से यह महापर्व बिहार और उत्तरप्रदेश में मनाया जाता हैं। चार दिन चलने वाले इस महापर्व में छठ मैया के पूजन के साथ सूर्य देव को अर्ध्य देने का भी विशेष महत्व होता हैं। छठ व्रत खासतौर पर पुत्र प्राप्ति के लिए किया जाता है। शुभ फल की प्राप्ति के लिए छठ पूजा में व्रत के दौरान कुछ चीजों को जरूर शामिल किया जाना चाहिए। तो आइये जानते हैं इनके बारे में।


बांस की टोकरी

छठ पूजा के लिए बांस की टोकरी का प्रयोग किया जाता है। इसमें ही पूजन सामग्री रखकर अर्घ्य देने के लिए पूजन स्थल तक जाते हैं। बांस की टोकरी को पूजन में रखने से पहले गंगा जल छिड़क लेना चाहिए

गन्ना

छठ पूजा में गन्ने का भी महत्वपूर्ण स्थान है। अर्घ्य देते समय पूजन सामग्री में गन्ने का होना बहुत जरूरी होता है। गन्ने पर कुमकुम लगाकर पूजा स्थल पर रखें।

प्रसाद के लिए ठेकुआ

गुड़ और आटे से मिलकर बनने वाले ठेकुआ को छठ पर्व का प्रमुख प्रसाद माना जाता है। इस प्रसाद के बिना पूजा अधूरी होती है। इस प्रसाद को बनाते समय साफ-सफाई और पवित्रता का खास ख्याल रखा जाता है।

चावल के लड्डू

छठ मैय्या को चावल के लड्डू अत्यंत प्रिय होते हैं। इसका कारण इसकी शुद्धता है क्योंकि चावल कई परतों में तैयार होता है।

केला

पूजा में केले का पूरा गुच्छा चढ़ाया जाता है। इसके बाद प्रसाद में उसे वितरित किया जाता है।

नारियल

नारियल पूजन सामग्री में कच्चे नारियल का अपना ही महत्व है। छठ माई को नारियल का भोग लगाकर इसे प्रसाद में वितरित करते हैं।

नींबू

नारियल, लड्डू और गन्ने के साथ ही प्रसाद में नींबू का विशेष स्थान है। प्रसाद के रूप में इसे रखते हुए ध्यान रखना चाहिए कि इस पर चाकू से कोई निशान न लगे।

=>
LIVE TV