दाऊद की मदद से गोविंदा ने मुझे हराया

लखनऊ| उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने बॉलीवुड अभिनेता गोविंदा पर सनसनीखेज आरोप लगाये हैं| उन्होने कहा है कि 2004 के लोकसभा चुनाव में मुझे हराने के लिए गोविंदा का दाउद कनेक्शन असल वजह थी| इस काम में गोविंदा की मदद बिल्डर हितेन ठाकुर ने भी की थी।

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और यूपी के गवर्नर राम नाइक ने अपने संस्मरण ‘चरैवेति, चरैवेति’ (बढ़ते रहो) में यह दावा किया है। इस किताब का अनावरण 25 अप्रैल को मुंबई में किया गया था।

अपनी किताब में नाईक ने लिखा है, ‘तीन बार सांसद रहने और मुंबई के लिए बहुत सारा काम करने के बाद भी 11 हजार वोट से मिली करारी हार को मैं पचा नहीं पा रहा था|’

गोविंदा का दाउद कनेक्शन

गोविंदा का दाउद कनेक्शन रहा टर्निंग पॉइंट

वह अपनी किताब में लिखते हैं, ‘गोविंदा की दाऊद और ठाकुर के साथ दोस्ती थी और उन्होंने वोटरों को आतंकित करने के लिए इन दोनों की मदद ली थी। मुझे यह बात कहने में कोई हिचक नहीं है कि गोविंदा के दाऊद और ठाकुर से संबंध थे। गोविंदा ने अपनी ताकत का इस्तेमाल चुनाव में मेरे खिलाफ किया और यह उनके पक्ष में गया।’

वहीँ गोविंदा ने नाईक के इन आरोपों का खंडन करते हुए कहा, ‘यह जनता थी जिन्होंने मुझे जिताया था। मुझे तब किसी के समर्थन की जरूरत नहीं थी। ऐसी बातें कहकर राम नाईक यह कहना चाहते हैं कि उस संसदीय क्षेत्र के लोग अंडरवर्ल्ड के हाथों बिक गए थे। ऐसी बातें कहकर वो सभी का अपमान न करें’।

गोविंदा ने कहा, ‘अब जब मैं फिल्म की दुनिया में जा रहा हूं, मैं नाईक से अपील करूंगा कि वह मेरा नाम खराब न करें और न ही मेरे काम में बाधा पैदा करें। मैं पूछना चाहता हूँ कि अगर मेरे संबंध हिंदू और मुस्लिम अंडरवर्ल्ड से है, तब मेरा करियर पिछले 10 सालों से स्थिर क्यों है, मै क्यों कम बजट की फिल्में कर रहा हूँ?

हम आप को बता दें कि अपनी किताब में नाईक ने एक टेलिविजन चैनल पर भी अपनी खिलाफत करने के आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा है कि पूरे चुनाव के दौरान एक टीवी चैनल ने गोविंदा के प्रचार में मदद की थी|

=>
LIVE TV