गोरखपुर में बदमाशों ने किशोरी को अगवा कर किया सामूहिक दुष्‍कर्म, विरोध करने पर सिगरेट से जलाया

गोरखपुर के गोला इलाके में ईंट भट्ठा पर काम करने वाले मजदूर की बेटी को बाइक सवार युवकों ने अगवा कर तालाब किनारे झाड़ी में बंधक बनाकर उसके साथ दुष्‍कर्म किया। विरोध करने पर पिटाई करने बाद सिगरेट से शरीर जला दिया। शनिवार सुबह झाड़ी में अचेत मिली किशोरी को परिवार के लोग अस्‍पताल ले गए। पुलिस ने एक नामजद समेत दो युवकों के खिलाफ दुष्‍कर्म, अपहरण और पॉक्‍सो एक्‍ट के तहत केस दर्ज किया है।

जबरन बाइक पर बैठाकर ले गए

बड़हलगंज इलाके का रहने वाला मजदूर गोला क्षेत्र के एक ईंट भट्ठा पर काम करता है। भट्ठे के पास ही किराए पर कमरा लेकर पत्‍नी और बच्‍चों के साथ रहता है। शुक्रवार की रात उसकी नाबालिग बेटी दरवाजे पर स्थित हैंडपंप पर पानी लेने गई थी। आरोप है कि डेहरीभार गांव का रहने वाला अर्जुन अपने एक साथी के साथ पहुंचा। किशोरी को पकड़कर जबरन बाइक पर बैठा लिया। शोर मचाने की कोशिश करने पर मुंह दबा दिया। गांव के बाहर तालाब किनारे झाड़ी में ले जाकर दुष्‍कर्म किया।

पुलिस ने दर्ज किया मामला

किशोरी के अचेत होने पर आरोपित छोड़कर फरार हो गए। परिवार के लोग पीडि़त को सीएचसी गोला ले गए जहां से जिला अस्‍तपाल रेफर कर दिया गया। किशोरी के मां की तहरीर पर अर्जुन और उसके अज्ञात साथी के खिलाफ केस दर्ज कर पुलिस तलाश कर रही है। एसएसपी डॉ. सुनील गुप्‍ता ने बताया कि आरोपितों की तलाश चल रही है।

=>
LIVE TV