गाबा में वेस्टइंडीज की ऐतिहासिक जीत, कमेंट्री बॉक्स में ब्रायन लारा के छलके आंसू, कहा ये

चोटिल तेज गेंदबाज शमर जोसेफ ने शानदार गेंदबाजी से ऑस्ट्रेलिया को हिलाकर रख दिया, जिससे वेस्टइंडीज ने इतिहास रचते हुए ऑस्ट्रेलिया को 8 रन से हराकर सीरीज 1-1 से बराबर कर ली।

वेस्टइंडीज को ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट मैच जीतने में 27 साल लग गए। एक युवा टीम, जिसे ऑस्ट्रेलिया में पहुंचे से पहले ही खारिज कर दिया गया था, ने अकल्पनीय प्रदर्शन किया। वेस्टइंडीज ने गाबा में अपने किले में ऑस्ट्रेलिया को चौंका दिया, और रोमांचक चौथे दिन में 8 रन से जीत दर्ज की। महान ब्रायन लारा, जो ब्रिस्बेन के प्रतिष्ठित स्टेडियम में कमेंट्री बॉक्स में थे, अपने आंसुओं पर काबू नहीं रख पाए। उन्होंने इस जीत को “वेस्टइंडीज क्रिकेट के इतिहास में एक बड़ा दिन” बताया। जोसेफ ने सुबह के सत्र में लगातार 10 ओवर फेंके और सभी छह विकेट लेकर टेस्ट की गति बदल दी, जब एक समय ऑस्ट्रेलिया जीत की ओर बढ़ रहा था।

डे-नाइट टेस्ट के चौथे दिन डिनर ब्रेक के समय ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 187-8 था और उसे दो टेस्ट मैचों की सीरीज में क्लीन स्वीप करने और वेस्टइंडीज को बड़ा उलटफेर करने से रोकने के लिए अभी भी 29 रन और चाहिए थे। ब्रेक के समय स्मिथ 76 रन बनाकर नाबाद थे, उनके साथ नाथन लियोन पांच रन बनाकर खेल रहे थे।

हालाँकि, ऑस्ट्रेलियाई टीम को जोसेफ के धुआंदार स्पेल से बचना पड़ा, जो एक समय हैट्रिक पर थे और उन्होंने वेस्ट इंडीज को वापस सोच में डाल दिया था। जोसेफ, जिन्हें शनिवार रात दूसरी पारी में पैर के अंगूठे में चोट लगने के बाद रिटायर हर्ट होना पड़ा, ने शनिवार को गेंदबाजी नहीं की और पहले सत्र में केवल 45 मिनट में गेंदबाज़ी करने आए।

वेस्टइंडीज क्रिकेट के पतन के बारे में बहुत कुछ कहा गया है, लेकिन क्रैग ब्रैथवेट के नेतृत्व वाली युवा टीम द्वारा गाबा में सनसनीखेज परिणाम से क्रिकेट खेलने वाले देश का मनोबल काफी बढ़ेगा।

वेस्टइंडीज ने आखिरी बार 1997 में पर्थ में टेस्ट मैच जीता था। संयोग से, ब्रायन लारा ने उसी मैच में पहली पारी में 132 रन बनाकर मेहमान टीम के लिए बड़ी पारी खेली थी।

LIVE TV