गणित और इतिहास की NCERT बुक्स की किल्लत, छात्रों के माता-पिता परेशान

एजेन्सी/  cbse-maths-paper_650x400_71458114581नयी दिल्ली: स्कूलों में नया शैक्षणिक सत्र शुरू हो चुका है लेकिन माध्यमिक कक्षाओं के लिए गणित और इतिहास की एनसीईआरटी की पाठ्य पुस्तकों की बाजार में किल्लत ने छात्रों के माता-पिता को परेशान कर रखा है।

किताब की दुकानों के मालिकों का कहना है कि उन्हें या तो वितरकों से कोई आपूर्ति नहीं मिली है या उन्हें बेहद सीमित स्टॉक मिले हैं। इसकी वजह से बच्चों के माता-पिता को पुस्तकों की तलाश में एक स्थान से दूसरे स्थान भागना पड़ रहा है लेकिन बेहद कम सफलता मिल रही है।

हालांकि, एनसीईआरटी के अधिकारियों ने कहा कि पुस्तकों के मुद्रण या आपूर्ति में उनकी तरफ से कोई कमी नहीं है।

दक्षिण-पश्चिम दिल्ली में रहने वाले एक अभिभावक ने कहा, ‘‘सत्र पहले ही शुरू हो चुका है और मैं अपनी बेटी के लिए गणित की पुस्तक नहीं ढूंढ सका। उनकी बेटी छठी कक्षा में पढ़ती है। स्कूल के बुकस्टोर के पास भी यह पुस्तक नहीं है और दिल्ली के विभिन्न इलाकों में चार-पांच अन्य किताब की दुकानों पर भी हमें यह पुस्तक नहीं मिली।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘गणित मुख्य विषयों में से एक है। अगर पुस्तकें समय पर उपलब्ध नहीं कराई गईं तो छात्रों की पढ़ाई प्रभावित होगी क्योंकि कक्षाएं पहले ही शुरू हो चुकी हैं।’’ एक अन्य अभिभावक ने कहा, ‘‘मैंने अपने बच्चे के लिए उसके मित्रों में से एक से पुस्तक लेकर उसकी फोटोकॉपी कराई। दिल्ली के प्रत्येक दुकान पर जाकर यह पता लगाना संभव नहीं है कि कोई खास पुस्तक उसके पास उपलब्ध है या नहीं।’’ कुछ प्रमुख स्कूलों में किताब की दुकानों के मालिकों ने कहा कि उन्हें सूचित किया गया है कि पर्याप्त पुस्तकें मुद्रित नहीं की गई हैं और वे 15 अप्रैल के बाद उपलब्ध होंगी।

कनॉट प्लेस और पटेल नगर इलाके में कुछ किताब की दुकानों ने कहा कि छठी से आठवीं कक्षा तक गणित की पुस्तकों और नवीं कक्षा की इतिहास की पुस्तक की कमी है।

=>
LIVE TV