क्षतिग्रस्त पुलिया की चपेट में आकर पोषाहार लेकर जा रही ट्रक खाईं में पलटी, ग्रामीणों ने जताया विरोध

 क्षतिग्रस्त पुलिया की चपेट में आकर पोषाहार लेकर जा रही ट्रक पानी भरे खाई में पलट गई। चालक तथा खलासी बाल-बाल बच गए। हादसे के बाद दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गई। मामला जहांगीरगंज थाना क्षेत्र का है। जहांगीरगंज-बसखारी सड़क पर जगदीशपुर कटघर गांव के बीच कई माह से क्षतिग्रस्त पुलिया सड़क चौड़ीकरण कई माह से निर्माणाधीन है। इसके चलते एक ही तरफ से वाहनों व राहगीरों का आवागमन चलता है। यह हिस्सा पूरी तरह से धंसकर क्षतिग्रस्त हो चुका है। सोमवार को भोर में तेंदुआईकला में स्थित जहांगीरगंज बाल विकास कार्यालय पर पोषाहार ले जा रही ट्रक का संतुलन बिगड़ गया और वह बगल की पानी से भरे खाई में पलट गई। चालक व खलासी को ग्रामीणों ने ट्रक से निकाला। हादसे से स्थानीय ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया और मौके पर विरोध शुरू कर दिया। क्षेत्राधिकारी जगदीश लाल व थानाध्यक्ष नागेंद्र सरोज पुलिस बल के साथ पहुंचे और लोगों को समझाया। बाद में स्थानीय सुनील मौर्य ने तहसील पहुंचकर एसडीएम धीरेंद्र कुमार श्रीवास्तव को ज्ञापन सौंपकर जनहित में तत्काल पुलिया के अधूरे निर्माण को पूरा कराए जाने की मांग की। पुलिस ने मौके पर जेसीबी बुलाकर पुलिया के अधूरे व धंसे हिस्से पर ईंट व मिट्टी डालकर ठप पड़े आवागमन को बहाल कराया। एसडीएम ने बताया जल्द पुलिया निर्माण पूरा कराया जाएगा।

————–

-जानलेवा साबित हो रही क्षतिग्रस्त सड़क : चार मौत व घायलों की लंबी फेहरिस्त ने क्षतिग्रस्त सड़क व पुलिया स्थल को काफी खतरनाक बना दिया है। बीते 19 जनवरी को बाइक से जा रहे ऊंचेपुर निवासी युवक अभिषेक तथा मनोज हादसे की दौरान मौत हो गई जबकि गुड्डू घायल हो गए। माधवपुर निवासी उमेश विश्वकर्मा की भी स्थल पर हादसे में मौत हो गई। बीते 27 जून को हादसे में आलापुर थाना क्षेत्र के इंदईपुर निवासी होमगार्ड अजय गौतम की मौत हो गई, जबकि बाइक पर बैठे संजय गंभीर रूप से घायल हो गया था। सोमवार को हुए ट्रक हादसे के एक दिन पहले ही शनिवार की रात को मानापुर निवासी दो चचेरे भाई नितेश तथा प्रशांत मिश्र बाइक सहित क्षतिग्रस्त पुलिया की चपेट में आकर घायल हो गए।

=>
LIVE TV