कोच फ्लेमिंग ने किया ख़ुलासा, आखिर धोनी क्यों उलझे थे अंपायर से

IPL: चेन्नई सुपर किंग्स के कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने स्वीकार किया कि नो बॉल को लेकर अंपायर से उलझने के लिए महेंद्र सिंह धोनी से सवाल पूछे जाएंगे, लेकिन कप्तान का बचाव करते हुए कहा कि वह बस स्पष्टीकरण मांग रहे थे|

राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ गुरुवार की रात आईपीएल मैच में नो बॉल पर एक फैसले को लेकर धोनी डगआउट से निकलकर अंपायर उल्हास गांधे से बहस करने लगे|

फ्लेमिंग ने मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा,‘वह उस फैसले से नाराज थे कि नो बॉल देकर उसे वापस क्यों लिया गया| वह स्पष्टीकरण चाहते थे| आम तौर पर वह ऐसा नहीं करते हैं और मुझे पता है कि आने वाले समय में उनसे यह सवाल बार-बार पूछा जाएगा|’

IPL: जब धोनी ने खोया अपना आपा, मैच फ़ीस का 50 प्रतिशत लगा जुर्माना

धोनी पर उस घटना के लिए मैच फीस का 50 फीसदी जुर्माना लगाया गया. फ्लेमिंग ने कहा,‘कुछ गलतफहमी हो गई थी| हमें लगा कि गेंदबाज के छोर पर अंपायर ने नो बॉल कहा है| यह गलतफहमी बनी रही कि नो बॉल थी या नहीं|’

उन्होंने कहा,‘एमएस स्पष्टीकरण चाहते थे जो मिल नहीं रहा था. इसलिए वह जाकर अंपायर से बात करने लगे| मैं नहीं कह सकता कि यह सही था या नहीं| लेकिन फैसले को लेकर गलतफहमी भी सही नहीं थी|’

=>
LIVE TV