कुवारी लड़कियों का अगर घर की इस दिशा में है कमरा, तो जल्दी हो सकती है शादी…

बेटी के विवाह की चिंता हर माँ-बाप को होती है। घर का वायव्य कोण बहुत ही महत्वपूर्ण होता है, इस दिशा में अगर दोष हो तो व्यक्ति को कई तरह की समस्यों का सामना करना पड़ता है, इसके साथ ही अगर ये स्थान वास्तुरहित हो तो बहुत लाभ देता है। आइए आपको बताते हैं कैसे वायव्य कोण से लाभ प्राप्त किया जा सकता है।

इस दिशा में होना चाहिए कमरा:

विवाह योग्य कन्या को घर के वायव्य कोण में बने कमरे में रखें, विवाह के योग बनने लगेंगे। इस दिशा में विवाह योग्य कन्या का कमरा बहुत अच्छा माना गया है।

यह स्थान मेहमानों का कक्ष, आगंतुक कक्ष (ड्राइंग रूम) के लिए उत्तम है। यहां किरायेदारों का कमरा होना वास्तुशास्त्र के अनुसार बहुत लाभकारी होता है।

अन्न भण्डार, स्टोर के लिए भी वास्तुशास्त्र के अनुसार यह स्थान ठीक है। यहां वाहन व पशु का स्थान आदि बनाना शास्त्र सम्मत है।

=>
LIVE TV