किसने बताया कंगना को ‘दो टके की’? जानें किस तरह किया अभिनेत्री ने पलटवार

बॉम्बे नगर निगम (BMC) के द्वारा की गई बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के घर पर तोड़फोड़ को बॉम्बे हाई कोर्ट (High Court of Bombay) ने गलत बताया है। साथ ही कंगना को हानी पहुंचाने के लिए मुआवजा देने के लिए कहा गया है। वहीं कोर्ट के इस आदेश के बाद लोग इसे कंगना की जीत का नाम दे रहे हैं। साथ ही इस फैसले पर लोग सोशल मीडिया पर चार्चा कर रहें हैं। माना जा रहा था कि अब कंगना किसी पर धावा नही बोलेंगी लेकिन इसी बीच मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर (Kishori Pednekar) के एक बयान ने पूरी कहानी बदल कर रख दी। वहीं कंगना की प्रतिक्रिया के बाद मामला काफी गर्म हो गया है।

बता दें कि हाईकोर्ट के फैसले के बाद कंगना को लेकर मेयर किशोरी ने एक भड़काउ बयान दिया। बयान में उन्होंने कंगना रनौत के लिए ‘दो टक्के के लोग’ जैसे भद्दे शब्द का प्रयोग किया। किशोरी के इस बयान के बाद लोग उनकी खूब निंदा कर रहे हैं। यदि बात करें किशोरी के द्वारा दिए गए बयान की तो उन्होंने कहा कि, ‘हम लोग भी हैरान हुए हैं। एक अभिनेत्री जो रहती हिमाचल में है और हमारी मुंबई को पीओके कहती हैं। जो दो टके के लोग अदालत को भी राजनीति का अखाड़ा बनाना चाहते हैं वो गलत हैं। क्योंकि ये मामला बदले का नहीं है।’

किशोरी के इस बयान पर कंगना ने भी उन पर पलटवार करते हुए उनका ही यह वीडियो साझा किया। साथ ही उन्होंने अपने ट्वीटर के माध्यम से कहा कि, ‘मैंने कुछ महीनों में महाराष्ट्र सरकार से इतने लीगल केस, गालियां, बेइज्जती झेली हैं कि बॉलीवुड माफिया और आदित्य पंचोली और ऋतिक रोशन जैसे लोग भले लगने लगे हैं… पता नहीं मुझमें ऐसा क्या है जो लोगों को इतना परेशान कर देता है।’

साथ ही आपको बता दें कि जब हाईकोर्ट ने कंगना के मामले में अपना फैसला सुनाया था उस पर कंगना ने अपनी प्रतिक्रिया दिखाते हुए लिखा था कि, “जब कोई सरकार के खिलाफ खड़ा होता है और जीतता है, तो यह उसकी अपनी जीत नहीं, बल्कि यह प्रजातंत्र की जीत है। उन सभी का शुक्रिया, जिन्होंने मुझे साहस दिया और उनका भी शुक्रिया, जो मेरा सपना टूटने पर हंसे थे। आप लोग विलेन बने, इसलिए मैं हीरो बन सकी।”

=>
LIVE TV