कानपुर का अस्पताल कर रहे मरीजों की जान से खिलवाड़, बिना डॉक्टर हो रहा इलाज

REPORT—VIKAS SOLOMON, KANPUR

जिंदगी की रफ्तार में हो इजाफा जिंदगी हो खुशनुमा ऐसी सोच के साथ मरीज अच्छे से अच्छे हॉस्पिटल में अपना इलाज कराते है और यही सलाह भी सबको देते है लेकिन उनको क्या पता होता है कि जिन अस्पतालों की शरण में जा रही है.

वही अस्पताल हमे मौत की दावत भी दे रहे है दरअसल आप को बता की ऐसा जी मामला एक कानपुर के पनकी थाना क्षेत्र के एक निजी हॉस्पिटल का है जो कि वह एक संस्था से भी जुड़ा हुआ बताता है.

मरीज की मौत

लेकिन वहां की इतनी बड़ी लापरवाही सामने आई है जिसकी कहानी सुनकर आप के रोंगटे खड़े हो जाएंगे गौरतलब है कि कोई भी मरीज अपनी डिलेवरी के लिए हॉस्पिटल में जाती है.

तो उसकी डिलीवरी डॉक्टर की देखरेख में होनी चाहिए। लिहाजा यहां ऐसा कुछ भी नही होता है आपको बता दे बीते दिन सोनी श्रीवास्तव   नाम की मरीज भर्ती हुई और रात में डिलीवरी भी हुई वो भी बिना डॉक्टर की देख रेख में लिहाजा बच्ची की मौत हो गयी.

दबंगों ने जबरन गिरा दी ग्रामीण की दीवार, पुलिस बनी हुई है मूक दर्शक

जिसके बाद परिजनों ने हंगामा भी काटा और 100 नम्बर पर पुलिस को सूचना भी दी मौके पर पहुंची पुलिस ने टाल मटोली करते हुए पीड़ित को थाने बुलाया और कार्यवाही करने का अस्वाशन भी दिया.

लेकिन अभी तक पुलिस ने मौत के सौदागर बने मेरी गोल्ड हॉस्पिटल पर कोई नही हुई है अब देखना बाकी रहेगा कि ऐसे हॉस्पिटलों पर प्रशासन क्या कार्यवाही करेगा ..

=>
LIVE TV