कसौली में जीएमपी लैब उद्घाटित

JP-Nadda_571dba0c7fe4bएजेंसी/ सोलन : हिमाचल के कसौली के सीआरआई में केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने जीएमपी अर्थात गुड मेन्युफेक्चरिंग प्रेक्टिस लैब का उद्घाटन किया. इस मौके पर संबोधित करते हुए नड्डा ने कहा कि 50 करोड़ की लागत से निर्मित इस लैब को विश्व स्तरीय बनाने के लिए कोशिश की जा रही है. यह रिसर्च का हब बनेगा और शैक्षणिक गतिविधियों को भी चलाया जाएगा. सभी संसाधनों को प्राथमिकता से उपलब्ध कराया जायेगा.

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा बच्चो को लगने वाले 7 टीकों में से 3 टीकों की दवाइयां कसौली में ही बनाई जाती है. रोटा वाइरस से बच्चों की बढती मौतों को देखते हुए अब रोटा वाइरस का टिका लगाना भी अनिवार्य कर दिया है. नड्डा ने संस्थान के निदेशक और वैज्ञानिकों से आव्हान किया कि वे देश हित में नए प्रोजेक्ट बनाकर भारत सरकार को भेजे. देशहित से जुड़े प्रोजेक्ट को प्राथमिकता के आधार पर लागू किया जाएगा.

निजी संस्थानों से प्रतिस्पर्धा करनी होगी. संस्थान की कमियों को सरकार दूर करेगी. इस अवसर पर सांसद वीरेंद्र कश्यप ने भी संबोधित किया. आपने कहा कि सीआरआई 111 सैलून से देश की सेवा कर रहा है. द्वितीय विश्व युद्ध में भी इस संस्थान ने सेवा दी थी. 2008 में बुरा वक्त भी आया जब इसका लाईसेन्स सस्पेंड कर दिया गया, लेकिन आज यह संस्थान स्वर्णिम युग की ओर बढ़ रहा है.

=>
LIVE TV