ईडी से माल्या ने पेशी के लिए मांगा मई तक का समय

598px-Vijaymallya_56fb568ee0082एजेन्सी/नई दिल्ली : कर्ज में डूबे किंगफिशर के मालिक विजय माल्या ने अब पेशी के लिए मई तक का समय मांगा है। माल्या ने शीर्ष अदालत के समक्ष उस प्रस्ताव का हवाला दिया, जिसमें उन्होने बैंको का कर्ज चुकाने की बात कही थी, जिसे बैंको ने ठुकरा दिया था। उनका कहना है कि अब वे दूसरे प्रस्ताव पर काम कर रहे है।

माल्या ने प्रवर्तन निदेशालय से कहा कि दूसरे प्रस्ताव के बनने और क्लेयर होने में वक्त लगेगा, इसलिए उन्हें मई तक का समय दिया जाए। इस बार बैंक उनके प्रस्ताव को मानने के लिए राजी हो जाए, तो वो भारत लौट आएंगे। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने माल्या के लिए अगली पेशी में उपस्थित होना अनिवार्य करार दिया था, वरना उनके खिलाफ नॉन बेलेबल वारंट जारी करने की बात कही गई थी।

कोर्ट ने पूछा था कि माल्या 21 अप्रैल तक बताएं कि वो कोर्ट में कब पेश होंगे। कोर्ट ने माल्या के वकील से यह भी कहा था कि वो 10 दिनों के भीतर अपनी संपत्ति का ब्योरा दें। 21 अप्रैल तक माल्या को न केवल अपनी बल्कि पत्नी व बच्चों की भी प्रॉपर्टी की जानकारी देनी होगी। मामले की अगली सुनवाई 26 अप्रैल को होनी है।

=>
LIVE TV