इस बार सरकारी प्राइमरी स्कूलों के प्रधानाध्यापकों-शिक्षकों को जून में भी करना पड़ेगा काम

विभाग के जरूरी काम पूरा करने के लिए इस बार सरकारी प्राइमरी स्कूलों के प्रधानाध्यापकों-शिक्षकों की ड्यूटी लगाई जाएगी। बेसिक शिक्षा विभाग की अपर मुख्य सचिव ने आदेश जारी करते हुए कहा है कि प्रधानाध्यापक समेत शिक्षकों को मिड-डे-मील की धनराशि ट्रांसफर करने, मानव संपदा पोर्टल का ब्योरा दुरुस्त करने समेत ई-पाठशाला की मॉनिटरिग करनी होगी।

प्रभारी बीएसए अमरनाथ राय ने बताया कि ब्लॉक स्तर पर प्रधानाध्यापक और शिक्षकों का रोस्टर तैयार किया जाएगा। प्रधानाध्यापकों को सुबह व शाम की पाली में उपस्थित होकर सभी काम करवाने हैं। किसी भी समय में दो-तीन समूह उपस्थित नहीं होंगे। मिड-डे-मील बंटवाने के लिए बच्चों और उनके अभिभावकों के नाम, अभिभावक का बैंक खाता संख्या, बैंक का नाम, आइएफएससी कोड और मोबाइल फोन नंबर जुटाने हैं। एमडीएम (दोपहर भोजन योजना) का खाद्यान्न कोटेदार के माध्यम से और परिवर्तन लागत बैंक खाते में भेजी जानी है। इस ब्योरे को प्रेरणा पोर्टल पर अपलोड करना है। वहीं मानव संपदा पोर्टल में शिक्षकों के ब्योरे को चेक करने का काम भी जून में किया जाना है। ई-पाठशाला के तहत चल रही व्हाट्सएप कक्षाओं की मॉनीटरिग के साथ ज्यादा से ज्यादा शिक्षकों को इससे जोड़ने की मुहिम भी सुनिश्चित की जाएगी। जिनके पास स्मार्ट फोन नहीं है, उन्हें दूरदर्शन और आकाशवाणी से जोड़ा जाएगा।

=>
LIVE TV