आरोपियों ने पुलिस वालों को भी नहीं छोड़ा , एसपी बनकर लगाया चूना…

गोरखपुर जिले में ठगी का एक हैरान करने वाला मामला सामने आया हैं. वहीं यूपी पुलिस भी आजकल ठगी का शिकार हो रही हैं. बतादें की सब इंस्पेक्टर से हजारो रूपये ठग लिए गए हैं. वहीं जब तक उन्हें पूरा मामला समझ में आया, तब तक आरोपी भाग निकला हैं.

 

 

 

बतादे की घटना का शिकार होने वाले सब इंस्पेक्टर झंगहा थाना में पदस्थ हैं. जानकारी के मुताबिक रविवार की रात 8 बजकर 30 मिनट पर उक्त सब इंस्पेक्टर के मोबाइल फोन पर एक कॉल आई. कॉल करने वाले ने दूसरी ओर से खुद को एडिशनल एसपी बताया. कॉल करने वाले का अंदाज और आवाज़ देखकर दरोगा कुछ समझ नहीं पाए.

यात्रिओं के लिए खुशखबरी ! अब रेलवे स्टेशन और ट्रेन में मिलेगी फ्री में वीडियो स्ट्रीमिंग की सेवा…

वहीं वो फोन करने वाले को एडिशनल एसपी समझकर बात करने लगा. कॉल करने वाले ने सब इंस्पेक्टर को 20 हजार रुपये लेकर उसके पास आने के लिए कहा. सब इंस्पेक्टर बिना देरी किए 20 हजार रुपये लेकर उस शख्स के बताए पते पर पहुंच गए. वो शख्स रेलने कालोनी में कार में बैठकर दरोगा का इंतजार कर रहा था.

वहां कार में पिछली सीट पर बैठे शातिर शख्स ने बड़े आत्मविश्वास के साथ सब इंस्पेक्टर के काम की तारीफ की और उनसे 20 हजार की रकम लेकर ड्राइवर को पिपराइच की तरफ चलने के लिए कहा. ये सबकुछ इतनी जल्दी में हुआ कि पहले तो दरोगा जी कुछ समझे नहीं लेकिन कुछ देर बाद उन्हें अपनी गलती का अहसास हो गया.

जहां इसके बाद सब इंस्पेक्टर ने फौरन पिपराइच थाने के प्रभारी निरीक्षक को फोन करके आपबीती सुनाई. दरोगा जी की बात सुनकर प्रभारी निरीक्षक ने आरोपी को पकड़ने के लिए नाकाबंदी की लेकिन पुलिस के हाथ सिर्फ वो कार लगी, जिसमें आरोपी सवार था. कार में शातिर ठग नहीं था.

दरअसल पुलिस ने जब कार चालक को पकड़कर उससे पूछताछ की तो उसने बताया कि उसकी कार किसी ने किराए पर ली थी. बाद में वह शख्स कस्बे में उतरकर कहीं चला गया. इस घटना की चर्चा पूरे विभाग में हो रही है. जिससे दरोगा जी की किरकिरी हो गई. फिलहाल, पुलिस इस मामले पर कुछ भी कहने को तैयार नहीं है.

 

 

=>
LIVE TV