आईपीएल पर भी चीन बहिष्कार का असर, टाइटल स्पॉन्सर नहीं होगी यह कंपनी

चाइनीज मोबाइल कंपनी वीवो इस बार होने वाले आईपीएल में टाइटल को स्पॉन्सर नहीं होगी। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की ओर से गुरुवार को उसके साथ हुए करार को फिलहाल सस्पेंड कर दिया गया है। इसी के साथ बोर्ड की ओर इस बाबत एक लाइन का बयान जारी कर जानकारी भी दी गयी है।

आपको बता दें कि इस साल में आईपीएल यूएई में 19 सिंतबर से लेकर 10 नवंबर तक होना है। ज्ञात हो कि वीवो की ओर से 2018 में 2190 करोड़ रुपये में 5 साल के लिए आईपीएल की टाइटल स्पॉन्सरशिप डील हासिल की गयी थी। यह करार 2022 में खत्म होना था। डील के तहत वीवो बीसीसीआई को हर साल 440 करोड़ रुपये देता है।

टाइटल स्पॉन्सर के लिए होगा टेंडर जारी
बीसीसीआई इस साल नए टाइटल स्पॉन्सर के लिए अब टेंडर जारी करेगा। जिसके बाद आईपीएल और वीवो के बीच अगले साल 2021 से लेकर 2023 तक के लिए फिर से करार हो सकता है। हालांकि इस बाबत कोई आधिकारिक जानकारी नहीं है।

=>
LIVE TV