Thursday , August 17 2017

अमेरिका में इस्लाम के खिलाफ छिड़ी जंग, सामने आया हिटलर से ज्यादा खतरनाक शिकारी!

अमेरिका में मस्जिदोंन्यूयॉर्क: अमेरिका में मस्जिदों को धमकी भरे पत्र मिले हैं। इनमें मुसलमानों को धमकी दी गई है, जबकि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की तारीफ की गई है। घृणा भरे पत्र लांग बीच और क्लेयरमांट के इस्लामिक सेंटर के साथ-साथ सैन हौजे की मस्जिद में मिले।

अमेरिकन इस्लामिक संबंध परिषद (सीएआईआर) ने एक सप्ताह के दौरान मिले हस्तलिखित और फोटोकॉपी पत्रों की एक प्रति जारी की।

मुसलमानों को ‘नीच और गंदे लोग’ बताते हुए पत्र में लिख गया कि उनकी ‘गिनती के दिन आ गए हैं।’

पत्र में लिखा है, “शहर में नए शेरिफ हैं-डोनाल्ड ट्रंप। वह अमेरिका की सफाई और इसे फिर से चमकाने जा रहे हैं। यह काम वह आप मुसलमानों से शुरू करने जा रहे हैं।”

पत्र पर ‘अमेरिकन फॉर अ बेटर वे’ हस्ताक्षर किया गया है। इसमें कहा गया है, “वह (ट्रंप) आप सब मुसलमानों के साथ वही करने जा रहे हैं जो हिटलर ने यहूदियों के साथ किया था।”

परिषद ने ऐसे मामलों में पुलिस से सुरक्षा और उचित कार्रवाई का अनुरोध किया।

सैन फ्रांसिस्को में सीएआईआर निदेशक जाहरा बिल्लू ने शनिवार को जारी एक बयान में कहा, “हमने स्थानीय प्रशासन से मुसलमान समुदाय के साथ मिलकर काम करने को कहा है, ताकि सभी प्रार्थना घरों की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके।”

ट्रंप का हालांकि कहना है कि उन्हें इस तरह के हमलों की जानकारी नहीं है, पर अमेरिका में आठ नवंबर को हुए चुनाव के बाद से मुसलमानों, अश्वेतों, लैटिन अमेरिकियों, अप्रवासियों तथा एलजीबीटीक्यू के लोगों को पक्षपातपूर्ण ढंग से निशाना बनाने की 700 से अधिक घटनाएं हुई हैं।

LIVE TV