अमीर देशों की सूची में भारत, चीन और के USA के बाद तीसरे स्थान पर

www.GetBg.net_Finance_Wallpapers___Money_One_euro_coin_095212_एजेंसी/नई दिल्ली।वर्ल्ड इकॉनमी पर अध्ययन करने वाली वेबसाइट worldsrichestcountries.com ने भारत को धनी देशों की वैश्विक सूची में तीसरा स्थान दिया है।

‘वर्ल्ड रिचेस्ट कंट्रीज डॉट कॉम’ ने विश्व के धनी देशों की वर्ष 2016 की रैंकिग में भारत को US$8.80 ट्रिलियन जीडीपी के साथ तीसरे स्थान पर रखा है। इस सूची में चीनUS$20.853 ट्रिलियन जीडीपी के साथ पहले तथा संयुक्त राज्य अमरीका $18.558 ट्रिलियन जीडीपी के साथ दूसरे स्थान पर है। 

विश्व में धनी देशों की सूची जारी करने के लिए विश्लेषणकर्ता ‘सकल घरेलू उत्पाद’ जिसे अंग्रेजी में ‘ग्रॉस डोमेस्टिक प्रॉडक्ट, जीडीपी’ कहते हैं जैसी पारम्परिक विधि का ही उपयोग करते रहे हैं।

लेकिन, वैश्विक अर्थव्यवस्था पर अध्ययन व शोध करने वाली वेबसाइट ‘न्यू वर्ल्ड वेल्थ डॉट कॉम’ का कहना है कि किसी देश की अर्थव्यवस्था को मापने का पारम्परिक ‘जीडीपी’ पद्धति अविश्वसनीय और दोषयुक्त है। न्यू वर्ल्ड वेल्थ का कहना है कि किसी देश की जीडीपी उच्च स्तर पर हाने से उस देश के धनी होने का अंदाजा लगाना उचित नहीं है।

वहीं फोर्ब्स पत्रिका ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया है कि भारत में वर्ष 2000 से 2015 के बीच लखपतियों millionaires की संख्या में 400 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई वहीं देश में करोड़ो की संख्या में लोग अभी भी गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे हैं। रिपोर्ट में बताया गया कि इन 15 वर्षों के दौरान देश की कुल सम्पत्ति में भी 211 प्रतिशत का इजाफा हुआ।

भारत की जीडीपी में योगदान करने वाले शीर्ष दस राज्य

=>
LIVE TV