अगर आप भी करते हैं जरूरत से ज्यादा टमाटर का सेवन तो हो जाएं सावधान वरना…

टमाटर का अधिकतर इस्तेमाल सब्जियों और सलाद में किया जाता है। वैसे तो टमाटर खाना अच्छी बात है, क्योंकि इसमें कई पौष्टिक गुण मौजूद होते हैं। टमाटर खाने में स्वादिष्ट होने के साथ-साथ पोषक तत्वों से भी भरपूर हैं। डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के अनुसार, टमाटर में अल्फा लिपोइक एसिड, न्यूटिन, कोलिन व लाइकोपिन जैसे एंटीऑक्सीडेंट तत्व शरीर के लिए गुणकारी होते हैं, जो कैंसर जैसी बीमारियों से बचाने में मदद करते हैं।

टमाटर का सेवन आंखों व दांतों के लिए अच्छा होता है। टमाटर ब्लड-प्रेशर के रोगियों के लिए भी फायदेमंद होता है। इसके अलावा यदि किसी को हिमोग्लोबिन की कमी है तो टमाटर का सेवन जरूर करना चाहिए, लेकिन टमाटर का अत्यधिक सेवन शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है, आइए जानते हैं कैसे

किडनी पर प्रभाव
डॉ. लक्ष्मीदत्त शुक्ला के अनुसार, जो लोग किडनी की समस्या से जूझ रहे हैं, उन्हें बहुत टमाटर नहीं खाना चाहिए। एक रिसर्च के अनुसार टमाटर में पोटेशियम की मात्रा अत्यधिक होती है और डॉक्टरों के मुताबिक किडनी की बीमारी से पीड़ित मरीजों में पोटेशियम की मात्रा संतुलित होनी चाहिए। क्योंकि पोटेशियम बढ़ने से किडनी की कार्यक्षमता प्रभावित होने लगती है और किडनी डैमेज का खतरा बढ़ जाता है। इसके अलावा टमाटर में एक ऑक्सालेट तत्व भी पाया जाता है, जो किडनी के मरीजों के लिए हानिकारक हो सकता है।

गैस एसिडिटी की समस्या
जो लोग अत्यधिक टमाटर का सेवन करते हैं, उन्हें गैस, एसिडिटी या कब्ज की समस्या हो सकती है। सलाद में टमाटर खाना अत्यधिक पसंद किया जाता है, लेकिन जिन्हें पाचन संबंधी समस्या है, उन्हें टमाटर का सेवन कम करना चाहिए। अत्यधिक मात्रा में जब टमाटर खाया जाता है तो यह अपच की समस्या भी पैदा कर देता है, इस कारण पेट में गैस बनने लगती है।

टमाटर बढ़ा सकता है जोड़ों का दर्द
जिन लोगों को जोड़ों के दर्द और सूजन की समस्या बनी रहती है, उन्हें टमाटर का सेवन बिल्कुल ही कम करना चाहिए, क्योंकि टमाटर में क्षारीय पदार्थ अधिक मात्रा में मौजूद होते हैं, जो जोड़ों के दर्द को बढ़ा सकते हैं। इसके अलावा टमाटर में सोलनिन तत्व भी पाया जाता है, जो शरीर के ऊतकों में कैल्शियम की मात्रा को बढ़ाता है, जिससे जोड़ों में अधिक दर्द और सूजन की समस्या होने लगती है।

स्किन इन्फेक्शन की समस्या
टमाटर अधिक खाने पर स्किन एलर्जी की समस्या भी हो सकती है। टमाटर में लाइकोपिन तत्व अधिक होता है, जिससे लाइकोपेनोडर्मिया नामक स्किन एलर्जी हो सकती है। किसी भी व्यक्ति को 1 दिन में 75 मिलीग्राम से अधिक मात्रा में लाइकोपीन का सेवन नहीं करना चाहिए। ज्यादा टमाटर खाने से उसमें पाए जाने वाले हिस्टामाइन तत्व के कारण शरीर पर चकत्ते भी हो सकते हैं।

शारीरिक दुर्गन्ध
अक्सर आपने गौर किया होगा कि किसी-किसी व्यक्ति के शरीर से एक अजीब तरह की दुर्गंध आती है, दरअसल इसके लिए टरपीन्स नामक तत्व जिम्मेदार होता है। शरीर में जब इसकी अधिकता हो जाती है, तो उसके कारण एक अजीब सी दुर्गंध आने लगती है। टमाटर में भी कुछ मात्रा में टरपीन्स पाया जाता है, इसलिए ज्यादा टमाटर खाने से शारीरिक दुर्गंध बढ़ने की आशंका बनी रहती है। इसके अलावा ज्यादा टमाटर खाने से पथरी की भी समस्या हो सकती है। पथरी की समस्या से पीड़ित लोगों को टमाटर का सेवन बिल्कुल कम कर देना चाहिए।

=>
LIVE TV