कहीं और नहीं बल्कि इस ड्रिंक में मिलता है 10 का दम, भीषण गर्मी होगी बेअसर

गर्मियों में गन्ने का रस पीना किसे अच्छा नहीं लगता है। बेल का शरबत और आम पना के साथ-साथ गर्मियों में गन्ने का जूस वरदान है। अगर आप सही मात्रा में गन्ने का रस पीएं तो यह किसी अमृत से कम नहीं है। गन्ने का रस कई बीमारियों में लेना लाभदायक होता है। गन्ने का रस पीने पर बस इसके हायजीन के बारे में सोचने की जरूरत है।

गन्ने का रस

तनाव

गन्ने के जूस में एमीनो एसिड पाया जाता है। जो हमारे शरीर के स्ट्रैस हॉर्मोन को मेनटेन रखता है। रोज एक ग्लास गन्ने का रस पीने से अनिद्रा की समस्या भी दूर होती है। जिनको लो बी.पी. की समस्या हो उन्हें रोज एक ग्लास गन्ने का रस पीना चाहिए।

वजन

गन्ने के जूस में पाया जाने वाला फाइबर फैट को कम करता है। गन्ना आपको ओवईटिंग करने से रोकते है। इसके अलावा इसमें मौजूद नैचरल शुगर कैलोरी को भी घटाते हैं।

ब्लड प्रेशर

पॉटैशियम से भरपूर गन्ने का जूस ब्लड सर्कुलेशन को स्मूथ करता है। इस कारण ब्लड प्रेशर कंट्रोल रहता है और हर्ट अटैक की आशंका कम हो जाती है।

त्वचा

इसमें मौजूद अल्फाक हाइड्रॉक्सी एसिड स्किन को भी हेल्दी बनाए रखता है। गन्ने को रस को रोज पीने से गर्मियों में होने वाले स्किन के रोग से छुटकारा मिल जाता है।

एनर्जी

गन्ने का रस पीने से आपको इंस्टेंट एनर्जी मिलने लगती है. साथ ही आपकी थकान भी दूर होती है। यह शरीर के शुगर लेवल को भी मेनटेन रखता है।

गर्भावस्था

गर्भावस्था में हर महिला को रोज एक ग्लास गन्ने का रस पीना चाहिए। इसे पीने से मैटाबॉलिज्म और पाचन शक्ति ठीक रहती है। दिन भर एनर्जी मिलती है।

दांत

गन्नें में मौजूद कैल्शिहयम और फॉस्फोररस दांतों के इनेमल की सुरक्षा करता है और मसूड़ों को मजबूत बनाता है।

हड्डियों

गन्ने के रस में कैल्शियम, आयरन, पॉटेशियम, मैग्नीरशियम भरपूर मात्रा में पाया जो हड्डियों को मजबूत बनाता है। यह ऑस्टियोपोरोसिस को होने से रोकता है।

दिल के रोग

गन्ने का जूस पीने से पूरे शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर सही बना रहता है और इस वजह से दिल के रोग होने की आशंका घट जाती है।

कब्ज

फाइबर होने के कारण यह खाने को जल्दी हजम करता है। पेट में जलन और एसिडिटी जैसी समस्याएं भी खत्म होती हैं और कब्जा भी दूर रहता है।

=>
LIVE TV