#IPL-9: कांटेदार संघर्ष में बेकार गई रोहित की पारी, दिल्ली की शानदार जीत

amit-mishra-dd_1461421712एजेंसी/ दिल्ली डेयरडेविल्स और मुंबई इंडियंस के बीच आईपीएल मुकाबला बेहद कांटेदार रहा लेकिन जोरदार संघर्ष के बाद भी कप्तान रोहित शर्मा की पारी टीम के काम न आई और दिल्ली ने बाजी मार ली। दिल्ली इस लीग में रॉयल चैलेंजर्स बंगलोर (आरसीबी) के बाद ऐसी दूसरी टीम बन गई है जिसने अपने लक्ष्य का बचाव किया है।

दिल्ली के फिरोजशाह कोटला में खेले गए मुकाबले में दिल्ली ने जीत के लिए मुंबई को 165 रनों का लक्ष्य दिया लेकिन मेहमान टीम 10 रन से दूर रह गई। पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली ने संजू सैमसन (60) और जेपी डुमिनी (नाबाद 49) की पारियों की मदद से 20 ओवर में 4 विकेट पर 164 रनों की पारी खेली।

जिसके जवाब में कप्तान रोहित शर्मा ने अकेले जुझारू पारी खेली और 65 रनों का योगदान दिया लेकिन अंतिम ओवर में उनके रन आउट होने से टीम लक्ष्य से दूर होती चली गई। फिरकी गेंदबाज अमित मिश्रा ने 4 ओवर में 24 रन देकर 2 विकेट झटककर दिल्ली की मैच में वापसी करा दी।

इस मैच में अंतिम 8 ओवर में मुंबई की टीम सिर्फ 56 रन ही बना सकी जबकि दिल्ली ने 80 रन जोड़े थे। दिल्ली की यह लगातार तीसरी जीत है।

इससे पहले मुंबई इंडियंस से बल्लेबाजी करने का न्योता मिलने के बाद दिल्ली ने अपनी पारी शुरू की लेकिन क्विंटन डी कॉक (9) दूसरे ही ओवर में आउट हो गए। इसके बाद श्रेयस अय्यर ने संजू सैमसन के साथ पारी को आगे बढ़ाया और दूसरे विकेट के लिए 37 रनों की साझेदारी की। हालांकि 19 रन के निजी स्कोर पर अय्यर हार्दिक पांड्या की गेंद पर कैच आउट हो गए।

दिल्ली की पारी की विशेषता सैमसन की शानदार पारी रही जिन्होंने 48 गेंदों में 60 रनों की पारी खेली। साथ ही उन्होंने जेपी डुमिनी के साथ चौथे विकेट के लिए 71 रनों की साझेदारी कर टीम को 150 के पार पहुंचा दिया। सैमसन ने 48 गेंदों की अपनी पारी में 4 चौके और 2 छक्के लगाए। अंतिम ओवरों में डुमिनी ने कुछ बड़े शॉट्स खेले। वह 31 गेंदों में 49 रन बनाकर नाबाद रहे।

डुमिनी भले ही एक रन से अपनी फिफ्टी से दूर रह गए, लेकिन उन्होंने टी-20 क्रिकेट में 5 हजार रन पूरे कर लिए। वह इस लिस्ट में शामिल होने वाले 17वें बल्लेबाज बन गए हैं। उन्होंने 38.47 की औसत से यह आंकड़ा छूआ। वह औसत के मामले में सिर्फ क्रिस गेल और विराट कोहली से ही पीछे हैं।

वहीं सैमसन को मुंबई के खिलाफ खेलने में बहुत मजा आता है इसलिए उन्होंने इस टीम के खिलाफ खेले 9 मैचों में 5वीं बार फिफ्टी लगाई है। जबकि अन्य 67 पारियों में 8 अर्धशतक ही जमा पाए।

=>
LIVE TV