IOC से भारत को बड़ा झटका, पाक खिलाड़ियों को वीजा नहीं देने पर रोके सभी इवेंट्स   

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर फिदायीन हमले के बाद भारत ने देश में हो रहे शूटिंग वर्ल्ड कप के लिए पाक खिलाड़ियों को वीजा नहीं दिया था। जिसके बाद अंतरराष्ट्रीय ओलिम्पिक समिति (आईओसी) ने कार्रवाई की है। समिति ने सरकार की तरफ से लिखित आश्वासन नहीं मिलने तक भारत में ओलिम्पिक से जुड़े सभी आयोजनों पर रोक लगा दी है।

शूटिंग वर्ल्ड कप

स्विट्जरलैंड के लौसॉन में हुई ओलिम्पिक एग्जीक्यूटिव कमेटी की बैठक में यह फैसला लिया गया।

भारत में हो रहे शूटिंग वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के दो शूटर्स 25 मीटर रैपिड फायर इवेंट में भाग लेने वाले थे, लेकिन भारत सरकार की तरफ से उन्हें वीजा नहीं दिया गया। इसके खिलाफ नेशनल राइफल एसोसिएशन ऑफ पाकिस्तान ने आईओसी में शिकायत की थी।

दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज खिलाड़ी का दावा, भारत जीतेगा विश्व कप

आईओसी ने कहा, ‘‘मेजबान देश में आने वाले सभी खिलाड़ियों को किसी राजनीतिक हस्तक्षेप के बिना निष्पक्ष और समानता के माहौल में प्रतियोगिता में हिस्सा लेने का मौका मिलना चाहिए। भारतीय एनओसी, आईओसी और आईएसएसएफ के आखिरी वक्त तक किए प्रयासों के बाद भी पाक खिलाड़ियों को लेकर कोई रास्ता नहीं बना सका था।’’

आईओसी के मुताबिक, ‘‘यह भेदभाव से सम्बधिंत आईओसी के मूल चार्टर के खिलाफ है। आईओसी एग्जिक्यूटिव बोर्ड ने भारत के साथ भविष्य में किसी भी ओलिम्पिक से संबंधित प्रतियोगितायओं के आयोजन को लेकर सभी चर्चाएं पूरी तरह से स्थगित कर दी हैं।’’

रामायण का अध्ययन कर अमेरिका की स्टार महिला खिलाड़ी ने की सन्यास की घोषणा

बता दें जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर फिदायीन हमला हुआ था। इसमें 40 जवान शहीद हुए। इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान से संचालित आंतकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। इसके बाद भारत सरकार ने पाकिस्तान पर कड़ी कार्रवाई करते हुए की कई सख्त निर्णय लिए। इसी के तहत पाक के दो शूटर्स को वर्ल्ड कप के लिए वीजा नहीं दिया गया।

=>
LIVE TV