Election 2020: चुनाव कर्मियों को मतदान केंद्रों पर ही मिलेगा खाना

देश में होने वाले 03 नवंबर के चुनावों में जिन कर्मियों की ड्यूटी लगाई जाएगी उन्हें वहीं खाना दिया जाएगा। बतादें कि कर्मियों का खाना सरकारी स्कूलों के रसोइये द्वारा बनाया जाएगा। सरकार के इस आदेश के बाद प्रशासन ने अपनी तैयारी करना शुरु कर दी है। इस विषय पर प्रशासन ने सभी सरकारी विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों को होने वाले चुनाव में सभी चुनाव कर्मियों के लिए खाने की व्यवस्था की पुष्टि करने की जिम्मेदारी दी है। इस संबंध में प्रखंड निर्वाचन निबंधन पदाधिकारी सह बीडीओ अजीत कुमार ने जानकारी दी कि 3 नवंबर को होने वाले चुनावों में सभी मतदान कर्मियों को उसी केंद्र पर भोजन कराया जाएगा।

कर्मियों को भोजन कराने की पूरी जिम्मेदारी विद्यालय के प्रधानाध्यापक को दी गई है जिसके लिए वो सभी इस तैयारी में जुट चुके हैं। बतादें कि भोजन को कोई और नही बल्कि वो बनाएंगी जो सरकारी विद्यालयों में मिड डे मील तैयार करती हैं। बताया जा रहा है कि भोजन बनाने व खिलाने का काम विद्यालय के ही परिसर में किया जाएगा पर मतदान पंचायत भवन में कराया जाएगा।

चुनाव आयोग इन सभी के खाने से लेकर नाश्ते तक का बेड़ा अठाएगा। जानकारी के लिए बतादें कि आयोग ने ना ही सिर्फ चुनाव कर्मियों के खाने-पीने की व्यवस्था पर गौर किया है बल्कि वे जहां रुकेंगे व जहां मतदान किया जाएगा वहां तक की सफाई का भी ध्यान दिया है। इस सब की जिम्मेदारी भी आयोग ने विद्यालय के प्रधानाध्यापक को सौंपी है।

=>
LIVE TV