बौद्ध तीर्थस्थली श्रावस्ती में 15 दिन के भीतर हेलीकाप्टर सेवा की शुरुआत

buddhश्रावस्ती। बौद्ध तीर्थस्थली श्रावस्ती में पर्यटन को परवाज देने के लिए 15 दिन के भीतर हेलीकाप्टर सेवा की शुरुआत हो जाएगी। यूपी में पर्यटन विकास के लिए तीन सेक्टरों में प्रत्येक को 170 करोड़ का बजट दिया गया है।ये बातें केंद्रीय पर्यटन व नागरिक उड्डयन मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने कहीं। वह पर्यटन की संभावनाएं तलाशने बहराइच और श्रावस्ती दौरे पर पहुंचे थे।

श्रावस्ती सांसद दद्दन मिश्र के आवास पर बहराइच पयागपुर के ग्राम कलाम सतरही पहुंचे केंद्रीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने कहा कि उत्तर प्रदेश के पर्यटन स्थलों का प्रचार नहीं हो पा रहा।उन्होंने कहा कि श्रावस्ती की बौद्ध तीर्थस्थली, कतर्नियाघाट सेंक्चुरी, दुधवा नेशनल पार्क अपने आप में विशिष्ट हैं। लेकिन, प्रचार और सुविधाओं के अभाव में विदेशी पर्यटक एक दायरे में सिमट कर रह जाते है।

डॉ. शर्मा ने कहा कि प्रदेश के पर्यटन स्थलों को रामायण सर्किट, कृष्णा सर्किट व बौद्ध सर्किट में बोटा गया है। प्रत्येक सर्किट को 170 करोड़ का बजट आवंटित किया गया है।डॉ. शर्मा ने बताया कि सभी पर्यटन स्थलों को सड़क व वायु मार्ग से जोड़ने के लिए वीआईपी सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। इसके लिए देश में पहली बार एवियेशन नीति बनाई गई है। इसमें एक घंटे के सफर का किराया रुपया 2500 से अधिक न हो, इसके लिए जरूरी कदम उठाये जा रहे हैं।

दौरे पर केंद्रीय राज्य मंत्री ने की कई घोषणाएं

श्रावस्ती। ग्रामोदय से भारत उदय अभियान के लिए जिले में आए पर्यटन राज्य मंत्री ने श्रावस्ती को कई सौगातें दीं। प्रेस वार्ता के दौरान उन्होंने दस से पंद्रह दिन के अंदर पर्यटन नीति लागू कर श्रावस्ती की हवाई पट्टी से उड़ान प्रारंभ कराने की घोषणा के साथ श्रावस्ती की खोदाई में मिले बौद्ध अवशेषों के संरक्षण के लिए संग्रहालय की स्थापना यहीं करने, बौद्ध स्तूपों की बाउंड्रीवाल का निर्माण कराने की घोषणा की।

डेन महामंकोल की गतिविधियों की जांच होगी

डॉ. महेश शर्मा ने डेन महामंकोल के गतिविधियों की जांच कराने, पुरातत्व विभाग के जमीन पर महामंकोल के अवैध कब्जे को हटवाने के लिए कोर्ट से लेकर हर स्तर पर निपटने का आश्वासन स्थानीय लोगों को दिया। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश का चुनाव विकास के मुद्दे पर लड़ा जाएगा।

बोले जिताएंगे 5-5 एमएलए

केंद्रीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने प्रेसवार्ता में कहा कि उनका दौरा पर्यटन की संभावनाओं को तलाशने के लिए है लेकिन राजनीतिक स्थिति की भी समीक्षा की है। आरक्षण के मुद्दे पर कहा कि वर्तमान आरक्षण नीति में कोई बदलाव नहीं होगा लेकिन आर्थिक आधार पर आरक्षण चिंतन का विषय है।

2017 के विधानसभा चुनाव के मुद्दों पर उन्होंने कहा कि आम आदमी की जरूरतों एवं समस्याओं से जुड़े मुद्दे प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि सांसद जगदंबिका पाल व दद्दन मिश्रा को अपने लोकसभा क्षेत्रों से पांच-पांच विधायक जिताने की जिम्मेदारी सौंपी है।इस मौके पर अवध क्षेत्र के अध्यक्ष व कैसरगंज विधायक मुकुट बिहारी वर्मा, प्रदेश महामंत्री अनुपमा जायसवाल, जिलाध्यक्ष श्यामकरन टेकड़ीवाल समेत कई भाजपा नेता मौजूद रहे।

=>
LIVE TV