सरकार ने एक फिर किया 16 से 31 जुलाई तक लॉकडाउन का ऐलान…

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए नीतीश सरकार ने फिर लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला किया है. बिहार के सभी जिला मुख्यालय अनुमंडल और ब्लॉक मुख्यालय में 16 से 31 जुलाई तक लॉकडाउन रहेगा. इस दौरान रेलवे और विमान सेवा जारी रहेंगी. वहीं, शॉपिंग मॉल, धार्मिक स्थल, सार्वजनिक परिवहन बंद रहेंगे.

बता दें कि बिहार में कुल मरीजों का आंकड़ा 18 हजार के करीब है. इस वायरस की चपेट में आकर अब तक 160 लोगों की मौत हो चुकी है. राहत की बात है कि अब तक 12 हजार 317 लोग ठीक हो चुके हैं. प्रदेश में एक्टिव केस की संख्या 5482 है. पिछले कुछ दिनों कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं.

बिहार में बढ़ते कोरोना मामलों को लेकर विपक्ष भी हमलावर है. नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार में गठबंधन सहयोगी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यालय में भी कोरोना ने दस्तक दे दी है. बीजेपी कार्यालय के नेता, स्टाफ समेत कुल 75 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं.

अब इसे लेकर विपक्षी राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ने मोर्चा खोल दिया है. आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर कहा कि वर्चुअल रैली के कारण भाजपा के 75 नेता संक्रमित हुए हैं. उन्होंने नीतीश सरकार पर तंज भी किया. तेजस्वी ने कहा कि जब मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री, मंत्री सुरक्षित नहीं तो आम आदमी का क्या?

भारत में कोरोना मामलों की संख्या 9 लाख के पार पहुंच चुकी है और 23,700 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. हालांकि, भारत में रिकवरी रेट काफी बेहतर है. यहां 5.71 लाख मरीज ठीक हो चुके हैं.

=>
LIVE TV