Monday , August 21 2017

जनता के भरोसे पर खरी उतर रही मोदी सरकार : मीनाक्षी

विश्वास का नाम मोदीकानपुर। केंद्र सरकार द्वारा 500 व 1000 रुपये के नोट बंद करने के फैसले से कालेधन की बदौलत राजनीति करने वालों को जोर का झटका लगा है। स्वच्छता और विश्वास के साथ अब राजनीति होगी और विश्वास का नाम मोदी ही है। युवा सम्मेलन में शिरकत करने कानपुर आई भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की नेत्री और दिल्ली से सांसद मीनाक्षी लेखी ने पत्रकार वार्ता के दौरान यह बातें कही। 

विश्वास का नाम मोदी, कर रहे गंदगी साफ़

उन्होंने कहा कि आजादी के बाद पहली बार देखा जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के अंदर सभी क्षेत्रों में फैली गंदगी को साफ करने का बीड़ा उठाया है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के फैसले से एक साथ सभी बीमारियां खत्म हो गई हैं।

लेखी ने सपा और बसपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि ये पार्टियां काले धन से राजनीति में विश्वास करती हैं। अब नोटबंदी से उनका महत्वपूर्ण हथियार छिन गया है, जिससे यही लोग सबसे ज्यादा परेशान है। उन्होंने कहा कि अब काले धन पर राजनीति नहीं होगी राजनीति विश्वास पर होगी और विश्वास का नाम है मोदी। जनता के इस विश्वास पर केंद्र सरकार बराबर खरी उतर रही है।

नोटबंदी से जनता को हो रही परेशानियों पर लेखी ने कहा, “जब सीमा पर जवान वर्ष भर खड़ा होकर हमारी रक्षा कर रहा है तो हम लोग देश के लिए एक दिन लाइन में तो लग ही सकते हैं।”

उन्होंने कहा कि कश्मीर में पत्थर फेंकने वालों का अब अता पता नहीं है और सीमा पर घुसपैठ करने वाले भी शांत हो गए हैं। 50 दिन में जनता का सब कुछ सही हो जाएगा पर 40 हजार रुपये सैलरी पाकर चार करोड़ रुपये रखने वालों और सत्ता के जरिए जनता का खून चूसने वाले जिंदगी भर अब परेशान रहेंगे।

उन्होंने कहा कि मॉरीशस और साइप्रस के रास्ते आने वाले काले धन को पूरी तरह से रोक दिया गया है।

लेखी ने कहा कि भारतीय सेना हर मोर्चे को सफल करने का माद्दा रखती है, लेकिन दुर्भाग्य से आजादी के बाद अब तक अपने मन का काम नहीं कर पा रही थी। पहली बार मोदी सरकार में सेना देश हित में अपनी मन:स्थिति के अनुसार काम कर रही है, जिसका परिणाम है सर्जिकल स्ट्राइक।

=>
=>
LIVE TV