Friday , March 31 2017

24 घंटे की चुनावी ड्यूटी में मिलेगा सिर्फ आठ घंटे का वेतन

विधानसभा चुनावलखनऊ: आगामी विधानसभा चुनाव में चुनाव निर्वाचन आयोग ने रोडवेज से तीन हजार बसों की मांग की है। इन बसों में जिन ड्राइवरों की ड्यूटी लगाई गई है वह चुनावी ड्यूटी में जाने से दूर भाग रहे है। इसकी वजह यह है कि ये ड्राइवर 24 घंटे चुनावी ड्यूटी में रहेंगे। इसके बदले में इन्हें सिर्फ आठ घंटे का पारिश्रमिक दिया जाएगा।

विधानसभा चुनाव में  रोडवेज के तीन हजार बसों के ड्राइवरों को सिर्फ आठ घंटे का वेतन

इस बात से नाराज संविदा व नियमित ड्राइवर चुनावी ड्यूटी का बहिष्कार करने की तैयारी में है।

परिवहन निगम संविदा ड्राइवरों के साथ एक बार फिर चुनावी ड्यूटी के दौरान दिए जाने वाले पारिश्रमिक नाम पर मनमानी करने जा रहा है।

संविदा ड्राइवरों की मानें तो पिछले विधानसभा चुनाव में नियमित ड्राइवरों को जहां 700 रुपए मिलते थे वहीं संविदा ड्राइवरों को 250 रुपए रोजाना के हिसाब से दिया गया था।

यूपी रोडवेज वर्कर्स यूनियन के प्रांतीय अध्यक्ष हकदाद खां ने कहा कि संविदा ड्राइवरों के प्रकरण को लेकर चुनाव आयोग जाएंगे।

वहां से पता करेंगे कि ड्राइवर सहित बस के कितने किराए का भुगतान किया जा रहा है।

आयोग से नियमित व संविदा ड्राइवरों के ड्यूटी का पारिश्रमिक बराबर देने की बात करेंगे।

LIVE TV