ब्रेथवेट-“सैमुअल्स ने मुझे हर गेंद को हिट करने को कहा था”

Carlos-Brathwaite-1459873756एजेन्सी/नई दिल्ली। टी-20 वर्ल्ड कप के खिताबी मुकाबले के हीरो रहेवेस्टइंडीज के ऑलराउंडर कार्लोस ब्रेथवेट ने फाइनल मैच के अंतिम पांच मिनट को याद करते हुए कहा है कि उन क्षणों में मोर्लान सैमुअल्स ने उन्हें हर बॉल को हिट करने को कहा था। 

वर्ल्डकप के खिताबी मुकाबले में वेस्टइंडीज को जीत के लिए अंतिम छह गेंदों पर 19 रन की जरुरत थी और ब्रेथवेट ने इंग्लैंड के तेज गेंदबाज बेन स्टोक्स की गेंदों पर लगातार चार छक्के जड़कर वेस्टइंडीज को दूसरी बार टी-20 विश्वकप का चैंपियन बना दिया।

ब्रेथवेट ने क्रिकइन्फो को दिए साक्षात्कार में कहा, ”मैच के 19वें ओवर को लेकर हमने विशेष प्लान बनाया था। हमें पता था कि गेंद क्रिस जार्डन के हाथों में थमायी जाएगी। क्योंकि अंतिम ओवरों में वह शानदार यॉर्कर करते है। जार्डन के ओवर में गेंद को सीमा रेखा के पार भेजकर सैमुअल्स के ऊपर से कुछ दबाव हटाना चाहता था। लेकिन ऐसा नहीं हो सका और मैच अंतिम ओवर में आ पहुंचा। अंतिम ओवर में सैमुअल्स मेरे पास आकर कहने लगा कि कुछ भी हो वह रन लेने के लिये भागेगा और मुझे हर बॉल को सिर्फ हिट करना है। मैंने पहली गेंद पर ऐसा ही किया। लेकिन मंजिल अभी दूर थी।”

ब्रेथवेट ने कहा, ”दूसरी गेंद पर मुझे लगा कि यह मिस हो गया है लेकिन जब मैंने उसे हिट करके ऊपर देखा तो पता चला कि गेंद लांग ऑन के ऊपर से छह रन के लिये सीमा रेखा के पार चली गई है। इसके बाद मुझे एहसास हो गया कि हम मैच के करीब पहुंच गये है। लेकिन फिर भी अभी कुछ नहीं कहा जा सकता था। अब जीत के लिए चार गेंदों पर 7 रन की आवश्यकता थी और मर्लोन ने दोबारा से मेरे पास आकर कहा कि आप सिर्फ गेंद को हिट करो और मैंने फिर वैसा ही किया। तीन गेंदों के बाद हम फिर से चैंपियन बन गए।”

27 वर्षीय ब्रेथवेट ने कहा, ”मुझे खुशी है कि दो छक्के लगने के बाद बेन स्टोक्स भी समझ गए थे कि मैच अब उनके हाथ से निकल गया है और वह उसी जगह पर गेंद डालते रहे जहां पहले तीन छक्के लग चुके थे।”

उन्होंने कहा कि वह एक-या दो रन लेकर भी जीत की औपचारिकता को पूरा कर सकते थे लेकिन उन्होंने छक्के मारना ही उचित समझा। 

=>
LIVE TV