योगी सरकार ने सशक्तीकरण योजना को दी मंजूरी, एक लाख श्रमिकों को रोजगार

योगी सरकार ने कोरोना महामारी के दौरान चुनौती का सामना कर रहे किसानों की मदद के लिए कृषक सशक्तीकरण योजना को मंजूरी दे दी है। इस योजना के तहत एक लाख से अधिक श्रमिकों को तत्काल रोजगार और करीब 50 हजार किसानों को सीधे फायदा मिलेगा। किसानों को चालू वित्त वर्ष में इस योजना के तहत तैयार उत्पादों की बिक्री से 358 करोड़ रुपये अतिरिक्त आय हो सकेगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रवासी श्रमिकों के लिए रोजगार का अवसर बढ़ाने और किसानों की आय में स्थायी वृद्धि को ध्यान में रखते हुए 7 मई को एक योजना तैयार करने का निर्देश दिया था।
नियोजन विभाग के अंतर्गत कार्यरत राज्य जैव ऊर्जा विकास बोर्ड ने मनरेगा कन्वर्जेंस के जरिए मनरेगा जॉब कार्ड धारकों के लिए नियमित रोजगार व स्वरोजगार के अवसरों के सृजन पर केंद्रित कृषक सशक्तीकरण योजना तैयार की। शासन ने बोर्ड को ही नोडल एजेंसी बनाया है।
विस्तृत गाइडलाइन जारी कर कार्यवाही के लिए जिलाधिकारियों को भेजा
प्रारंभिक चरण में बड़े पैमाने पर औषधीय व सुगंध खेती, टिशू कल्चर बांस, खजूर व सहजन रोपण कार्यक्रम का क्रियान्वयन होगा। प्रमुख सचिव ग्राम विकास मनोज कुमार सिंह ने नई योजना व उसके क्रियान्वयन से संबंधित विस्तृत गाइडलाइन जारी कर कार्यवाही के लिए जिलाधिकारियों को भेज दी है।

होगा ये फायदा
एक लाख से अधिक श्रमिकों को तत्काल रोजगार।
50 हजार किसानों को चालू वित्त वर्ष में 358 करोड़ की होगी अतिरिक्त आय।
विज्ञापन

=>
LIVE TV