मोदी-“जो बन गए उसी के साथ जीने का हौंसला रखें”

images (6)एजेंसी/कटरा : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जम्मू – कश्मीर पहुंचे। यहां पर उन्होंने कटरा में वैष्णो देवी विश्वविद्यालय में आयोजित किए गए दीक्षांत समारोह में भागीदारी की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दीक्षांत समारोह में उपस्थितों को संबोधित करते हुए कहा कि आप जो भी कुछ नहीें बन पाऐ हैं उसे भूल जाऐं। यह जरूरी नहीं है कि जिस रास्ते पर आप चल पड़े हैं जरूरी नहीं है कि आपको उसी रास्ते पर गुजारा करना पडेगा। होंसले से ही नई सफलता को प्राप्त किया जा सकता है। आप जो भी बन गए हैं उसी के साथ जीने का हौंसला रखें।

उन्होंने कहा कि बहुत सारे लोग कई विश्वविद्यालयों में अध्ययन करते हैं क्या आप उन्हीं विश्वविद्यालयों में से एक हैं। क्या आप उन करोड़ों विद्यार्थियों में से एक हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि विद्यार्थियों को सोचने का तरीका बदलना होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जम्मू – कश्मीर विश्वविद्यालय औरों से अलग है। उन्होंने कहा कि आपकी शिक्षा में गरीबों का वास है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जीवन में यह भाव होना चाहिए कि जीवन में एक बार गरीब के लिए जरूर करूंगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जीवन में कसौटी तो तब प्रारंभ होती है जब अपने अनुसार निर्णय लेने होते हैं। कोई तो होता होगा जो आपको चलाता होगा। इस कैंपस में कैंपस के बाहर आपको कहता होगा कि बहुत रात हो गई अब मत पढ़ो भाई।

मगर जब कोई बताने वाला नहीं होता है तब हमारे जीवन की कसौटी प्रारंभ होती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यदि हौंसला हो तो फील्ड बदलकर आगे बढ़ें। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तेत्रैय उपनिषद का उल्लेख करते हुए कहा कि दीक्षांत समारोह की परंपरा हजारों वर्षों से बनी है। यह दीक्षांत समारोह शिक्षा समारोह नहीं होता है। यह तो ऐसा समारोह है जिसमें हमने जो शिक्षा पाई है उसे समाज को अर्पित करने का अवसर है। इसलिए यह अवसर बेहद महत्वपूर्ण है।

=>
LIVE TV