परिजनों को मेजर की शहादत पर है गर्व

Major-Amit-Deswal_571079ac979e9एजेंसी/गुड़गांव : माओवाद प्रभावित मणिपुर में उग्रवादियों से संघर्ष के दौरान भारतीय सेना का एक मेजर शहीद हो गया। मेजर अमित देसवाल की शहादत पर उनके परिजन ने गर्व जताया है। दरअसल मेजर देसवाल राष्ट्रीय रायफल्स के 21 स्पेशल फोर्स के मेजर थे। उनका निवास हरियाणा से करीब 45 किलोमीटर दूर झज्जर जिले के सुरहेटी गांव में था। वे मणिपुर में तैनात थे।

यहां के मामेंगलोंग जिले में उनकी टुकड़ी की मुठभेड़ उग्रवादियों से हुई। मेजर ने वीरता का परिचय दिया और उग्रवादियों से लड़ते रहे। देसवाल की बहादुरी को लेकर उनके रिश्तेदार संजीव कुमार ने कहा कि बहादुर फौजी ने यौद्धा की ही तरह अंतिम सांस ली। उनके चाचा ओम सिंह द्वारा कहा गया कि परिवार को उनकी मृत्यु का दुख है।

उन्होंने देश के लिए अपनी जान दे दी है। देसवाल अपने पीछे पत्नी व 4 वर्ष का पुत्र छोड़ गए हैं। देसवाल को 10 जून 2006 में आर्टिलरी रेजिमेंट में कमीशन मिला था। देसवाल को पूरे सैन्य सम्मान के साथ उनके गांव में पंचतत्व में विलीन किया जाएगा। उनकी पार्थिव देह गुड़गांव लाई जाएगी। 

=>
LIVE TV