प्रदेश खोजी पत्रकारिता के कर्णधार विवेक कुमार पाण्डेय को सम्मानित किया गया

son 1सोनभद्र। प्रदेश में खोजी पत्रकारिता से नई ऊर्जा का संचार करने वाले विवेक कुमार पाण्डेय को मीड़िया फोरम ऑफ इण्डिया ने शाल व प्रशस्ति पत्र एवं शील्ड देकर सम्मानित किया। उत्तर प्रदेश के मऊ जिले में फोरम ने राष्ट्रीय चिन्तन व पर्वो का महत्व विषय पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया।
इस कार्यक्रम में पत्रकारिता के क्षेत्र में सराहनीय कार्य करने वाले पत्रकारों को सम्मानित कर उनकी हौसला अफजाई की। इसी क्रम में सूबे को अपनी खोजपरख खबर से दहलाने वाले विवेक कुमार पाण्डेय को जुझारू व संघर्षशील पत्रकारिता के लिए काशी के मूर्धन्य विद्धान राम मोहन पाठक एवं पूर्व मऊ जिला पंचायत अध्यक्ष राकेश सिंह ने सम्मान पत्र व शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया। श्री पाण्डेय ने सूबे में अवैध खनन, वीआईपी टैक्स से लेकर सत्तापक्ष के विधायक की जाति प्रमाण पत्र प्रकरण को भी बेनकाब किया। सकारात्मक पत्रकारिता की खातिर वह हमेशा शासन सत्ता से टकराते रहे हैं। इसीलिए उनपर दबाव बनाने के लिए एक दर्जन से अधिक मुकदमें लादे गये हैं। परन्तु शमशीर से भी तेज उनके कलम की धार कभी भी कुंद नहीं पड़ी। यही नहीं श्री पाण्डेय ने अखबार व मीड़िया घरानों द्वारा पत्रकारों के खिलाफ किए जाने वाले दिहाड़ी मजदूरों जैसे व्यवहार की भी तहरीक चला रखी है। जय भारत! जय पत्रकार! का नारा बुलंद कर पत्रकारो को अपने अधिकार एवं शोषण के लिए एकजुट करने का भागीरथ यत्न कर रहे हैं। श्री पाण्डेय का बिरादराने पत्रकारों से आव्हान है कि उठो पत्रकार बंधुओं अब तो ऑखे खोलो। जुल्म हो चुका अब बहुत कुछ तो मुॅह से बोलो, बंधुओं सभी एक स्वर में बोलो जय भारत!! जय पत्रकार!! याद रखना मेरे भाईयों “जुल्म की टेनी कभी फलती नहीं।“ नाव कागज की कभी चलती नही।।“

=>
LIVE TV