नही जानते होगे आप ज्यादा चीनी खाने से होता है नशा…

आहार का तब भी विशेष ख्याल रखना होता है जब व्यक्ति अपना वजन कम करने की कोशिश कर रहा हो. वजन बढ़ने के मुख्य कारणों में से एक चीनी भी है जो कि खासकर पेट का मोटापा बढ़ाती है. अगर किन्हीं विशेषज्ञ महोदय से वजन कम करने के बारे में पूछेंगे तो वह सबसे पहले चीनी में कटौती करने की सलाह देंगे. से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला का कहना है

कि चीनी का अधिक सेवन, मोटापा, डायबिटीज डेमेंशियां, हृदय रोग, अल्जाइमर, गठिया, किडनी की बीमारी आदि दे सकता है. यह एक प्रकार की नशे की लत की तरह है. जब कोई व्यक्ति चीनी खाना बंद कर देता है, तो वह उसके शरीर पर वैसा ही प्रभाव डाल सकता है, जब लोग ड्रग्स का सेवन करते हैं. इसे बंद करने से सिरदर्द, थकावट,  चिड़चिड़ापन आदि जैसे लक्षण दिखाई दे सकते हैं. कुछ लोगों को पाचन संबंधी समस्याएं भी होती हैं. हालांकि, समय के साथ शरीर इस बदलाव को अपनाने लगता है. शरीर की प्रक्रियाओं में कुछ भी नहीं बदलता है.

जीवनशैली की आदतों के साथ-साथ चीनी के सेवन के स्रोतों को समझना महत्वपूर्ण है जो रक्त शर्करा के स्तर को बढ़ाते हैं. केवल खूब मिठाई खाने से ही चीनी के स्तर में वृद्धि नहीं होती है, बल्कि व्यायाम में कमी, गतिहीन जीवन शैली, असंतुलित आहार भी अहम भूमिका निभाते हैं. यह समझना बेहतर होगा कि कैसे चीनी की खपत कम करना है और रक्त शर्करा का स्तर नियंत्रण में रखना है.
सोच-समझकर खाएं

स्वादिष्ट व्यंजनों के स्वाद का आनंद लेते हुए इसकी मात्रा पर नजर रखना बहुत जरूरी है. भोजन करते समय हमेशा एक छोटी प्लेट का इस्तेमाल करें. क्या खाएं और कितना खाएं, इस बात का ध्यान रखें. myUpchar से जुड़े एम्स के डॉ. अनुराग शाही का कहना है कि रक्त में शुगर या ग्लूकोज का स्तर बहुत ज्यादा बढ़ जाता है तो व्यक्ति मधुमेह से पीड़ित होता है जिन्हें मधुमेह की शिकायत हो उनके लिए तो टुकड़ों-टुकड़ों में खाना जरूरी है. साथ ही मीठे से परहेज भी.

डाइट प्लान फॉलो करें

भारी नाश्ता करने से पेट को अधिक समय तक भरा हुआ रखने में मदद मिलती है. नाश्ता ढेर सारे फाइबर और पोषक तत्वों से भरपूर हो और दोपहर का भोजन प्रोटीन से समृद्ध हो. ब्रेड, आलू, सॉस, सफेद चावल आदि जैसे उच्च कार्ब वाले खाद्य पदार्थों से दिन के समय बचने की कोशिश करें. अपने किचन और फ्रिज को हरी पत्तेदार सब्जियों और फलों से भरा रखें.

भरपूर मात्रा में पानी का सेवन करें

मीठे पेय जैसे सोडा, पैक्ड जूस को आहार से हटा दें और उनकी जगह पानी को दें. हर दिन भरपूर पानी पिएं. पाचन क्रिया को साफ करने के लिए दिन की शुरुआत खाली पेट 1 लीटर पानी पीने से करें. यह हाइड्रेटेड रहने में मदद करता है और रक्त से विषाक्त पदार्थों को साफ करता है. प्रति दिन औसतन कम से कम तीन लीटर पानी पिएं.

व्यायाम की जगह डांस करें

व्यायाम करने में कठिनाई हो सकती है, लेकिन खुलकर दिल से डांस करने यानी नाचने से अतिरिक्त कैलोरी बर्न हो सकती हैं. यह सभी मिठाइयों और घी का सेवन करने के बाद भी स्वस्थ रहने के लिए यह सबसे अच्छा वर्कआउट हो सकता है.

बुद्धिमानी से चुनें

हमेशा स्वस्थ विकल्प चुनें. ज्यादा खाने की कोशिश न करें, और मीठे में कुछ खाने ही है तो इसमें सूखे मेवें, फल और दही चुनना चल सकता है.

=>
LIVE TV